# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

भोपाल के मैनिट में बनेगा मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा क्वारंटाइन सेंटर

Post 1

भोपाल में 48 हजार कोरोना पॉजिटिव केस मिलने की आशंका को देखते हुए जिला प्रशासन तैयारी कर रहा है…

भोपाल।  48 हजार कोरोना पॉजिटिव केस मिलने की आशंका को देखते हुए जिला प्रशासन तैयारी कर रहा है। इसी के चलते मौलाना आजाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (मैनिट) में प्रदेश का सबसे बड़ा क्वारंटाइन सेंटर बनाया जा रहा है। एक ही समय में 10 हजार एक्टिव मरीज मिलने की आशंका के चलते भी तैयारियां की जा रही हैं। जिला प्रशासन ने संपूर्ण मैनिट कैंपस का अधिग्रहण कर लिया है। इसके आदेश अपर कलेक्टर आशीष वशिष्ठ ने जारी किए हैं। आदेश में स्पष्ट किया गया है कि मैनिट के सभी भवन और कमरों को सैनिटाइज करा कर एसडीएम टीटी नगर राजेश शुक्ला को सौंपा जाए। यहां पर 6 बड़े हॉस्टल हैं, जिनका प्रारंभिक तौर पर अधिग्रहण कर क्वारंटाइन सेंटर बनाया जाएगा। एक हॉस्टल में 200 कमरे हैं। इस तरह 1200 कमरों का क्वारंटाइन सेंटर बनेगा। इधर, मैनिट प्रबंधन ने हॉस्टल को जिला प्रशासन के हवाले करना शुरू भी कर दिया है। बुधवार को 200 कमरों के हॉस्टल नंबर-11 को एसडीएम के सुपुर्द कर दिया गया। यहां करीब 5 हजार लोगों को क्वारंटाइन करने की व्यवस्था की जा रही है।

छात्रों ने कलेक्टर को ट्वीट कर जताया विरोध

Post 2

इधर, हॉस्टल अधिग्रहण की सूचना मिलने पर मैनिट के छात्रों ने भोपाल कलेक्टर तरुण पिथोड़े के ट्वीटर हैंडल पर विरोध जताया है। छात्रों का कहना है कि हॉस्टल में उनके अहम दस्तावेज और लैपटॉप रखे हुए हैं। ऐसे में उनके दस्तावेज गुम हो सकते हैं। वहीं कुछ छात्रों का कहना है कि हम कैसे इस बात को मान लें कि संक्रमण खत्म होने के बाद पूरे हॉस्टल को सैनिटाइज कर हमें हमारे दस्तावेज और लैपटॉप बिना किसी क्षति के उपलब्ध करा दिए जाएंगे।

मैनिट प्रबंधन का तर्क…हमारे पास कोई विकल्प नहीं

दूसरी ओर मैनिट के रजिस्ट्रार ने बुधवार को सफाई पेश कर छात्रों को बताया कि उनके पास इसके अलावा कोई विकल्प नहीं है। महामारी एक्ट के अनुसार हॉस्टल जिला प्रशासन के हवाले करना ही होगा। इस स्थिति में हॉस्टल में रखे छात्रों के दस्तावेज और अन्य सामाग्री की पूरी वीडियोग्राफी कराई जाएगी। वहीं छात्रों की सामाग्री सुरक्षित रखवा दी जाएगी। इस संबंध में निगम कमिश्नर और जिला प्रशासन के अफसरों के साथ प्रबंधन की बैठक भी हो चुकी है। हॉस्टल नंबर-11 सबसे पहले जिला प्रशासन को दिया जा रहा है।

 

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |