# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

चौथे लॉकडाउन के 13 दिन में इंदौर में प्रतिदिन औसतन 70 संक्रमित मिले, अब तक 3486 पर पहुंचा मरीजों का आंकड़ा

Post 1

शनिवार को कोरोना से स्वस्थ होने के बाद 176 मरीजों को विभिन्न कोविड अस्पतालों से डिस्चार्ज किया गया। इंदौर जिले में अब तक 1951 मरीज कोरोना संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं…

  • शनिवार देर रात आई रिपोर्ट में 55 नए पॉजिटिव मिले
  • 3 मरीजों की मौत के बाद मरने वालों की संख्या भी 132 पर पहुंची

इंदौर. चौथे लॉकडाउन का आज 14वां और अंतिम दिन है। सोमवार से अनलॉक-1 शुरू होने वाला है। इसके बावजूद इंदौर में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। लॉकडाउन के फेज-4 के 13 दिन में इंदौर में प्रतिदिन औसतन 70 संक्रमित व्यक्ति मिले। इसे देखते हुए सोमवार से शुरू होने वाले अनलॉक को लेकर चिंता देखी जा रही है। शनिवार रात आई रिपोर्ट में कोरोना के 55 नए मरीज मिले। मरीजों की संख्या बढ़कर 3486 पर पहुंच गई है। 3 लोगों की मौत से मरने वालो की संख्या भी बढ़कर 132 हो गई है। रिपोर्ट के अनुसार, इंदौर जिले में अब तक 35713 सैंपलों की कोरोना जांच की गई है। वर्तमान में शहर के विभिन्न कोविड अस्पतालों में 1403 मरीजों का उपचार किया जा रहा है।

Post 2

एसएमएस का मूल मंत्र तैयार किया गया है
1 जून से लॉकडाउन 5.0 के साथ अतिरिक्त राहत मिलने की बात कही जा रही है। इस राहत ने इंदौर की चिंता भी बढ़ा दी है, क्योंकि चौथे लॉकडाउन में करीब 8% आबादी (27 लाख में से करीब डेढ लाख) विविध कामों से निकलने की औपचारिक मंजूरी मिली हुई है, इसके बावजूद 70 संक्रमित रोज सामने आ रहे हैं। जब ज्यादा राहत मिलेगी और 20-30% आबादी बाहर निकलेगी तो संक्रमण की रफ्तार क्या होगी, इसे लेकर सभी के माथे पर चिंता की लकीरें हैं। इसके लिए मूल रूप से घर से बाहर निकलने वालों के लिए एसएमएस का मूल मंत्र तैयार किया गया है- एस यानी सोशल डिस्टेंसिंग, एम यानी मास्क और एस यानी सैनेटाइजेशन।

8 से 10 लाख की जनसंख्या का मूवमेंट संभव
जिला प्रशासन और सरकारी महकमों, पुलिस, पंजीयन आदि महकमे के करीब 10 हजार लोग अभी दफ्तर आ रहे हैं। 10 हजार नगर निगम से जुड़े हैं। करीब 40 हजार लोगों को प्रशासन ने पास जारी किए हैं। इसके साथ ही मंडी, इंडस्ट्री, बैंक कर्मचारियों के साथ न्यू सियागंज और अन्य बाजार में 29 गांवों में लोगों को सिंगल ऑर्डर से पास जारी हैं। रियल सेक्टर में काम जारी है, इसमें डेढ़ से दो लाख आबादी का हर दिन शहर में मूवमेंट हो रहा है। अब निजी दफ्तरों को भी 30 फीसदी क्षमता से खोलना है, अन्य जरूरी दुकानाें को खोलने का साथ ही कई अन्य कारोबार जैसे सैलून आदि को भी मंजूरी हो सकती है। ऐसे में हर दिन शहर में आठ से दस लाख की जनसंख्या का मूवमेंट संभव है। यानी संक्रमण का खतरा आज की तुलना में करीब तीन गुना है। ऐसे में यदि लोगों ने एसएमएस का पालन नहीं किया तो संक्रमण का खतरा तीन गुना होगा।

13 दिन में 901 पॉजिटिव मरीज
18 मई से 31 मई तक लागू चौथे लॉकडाउन के 13 दिनों में इंदौर जिले में कोरोना के 901 मरीज सामने आए है। इसका औसत निकाले तो प्रतिदिन 70 पॉजिटिव। पहले से लेकर चौथे लॉकडाउन तक प्रत्येक में प्रतिदिन मिलने वाले पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ती गई।

  • 24 मार्च से 14 अप्रैल तक लागू पहले लॉकडाउन के 21 दिनों में 569 कोरोना मरीज मिले अर्थात प्रतिदिन 27 मरीज।
  • 15 अप्रैल से 3 मई तक लागू दूसरे लॉकडाउन के 19 दिनों में 1042 कोरोना मरीज मिले अर्थात प्रतिदिन 55 मरीज।
  • 4 मई से 17 मई तक लागू तीसरे लॉकडाउन के 14 दिनों में 954 कोरोना मरीज मिले अर्थात प्रतिदिन 68 मरीज।
Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |