# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

न गांव, न क्वारंटीन सेंटर में मिली एंट्री, मजदूर को जंगल में बिताने पड़े दो दिन

चेन्नई से आने के बाद मजदूर (Migrant Labour) पुलिस और फिर ब्लॉक पर गया था, लेकिन किसी ने उसकी मदद नहीं की. इसके बाद वह पास के ही जंगल में चला गया और वहीं पर पत्ते इकट्ठा कर सो गया...

Post 1

गंजम. कोरोना वायरस (Coronavirus) की बढ़ती मार के बीच ओडिशा (Odisha) के गंजम जिले में दिल को झकझोर देने वाली घटना सामने आई है. यहां चेन्नई से लौटे एक मजदूर को कथित रूप से न तो क्वारंटीन सेंटर (Quarantine Centre) में रखा गया और न ही उसे गांव में कदम रखने की इजाजत मिली. इस कारण उसे दो दिन जंगल में ही बिताना पड़ा. सूत्रों ने बताया कि ट्रेन से बालासोर पहुंचने के बाद, बारिक नायक को बस से भंजनगर लाया गया. हालांकि जब वह अपने गांव पहुंचे, तो स्थानीय निवासियों ने उन्हें गांव में घुसने से रोक दिया. नायक के अनुसार, वह किसी क्वारंटीन सेंटर में भी जाने के लिए तैयार थे, लेकिन सरपंच और स्थानीय प्रशासन से उन्हें कोई मदद नहीं मिली. इस कारण उन्हें दो दिनों तक जंगल में ही रहना पड़ा.

वहीं स्थानीय लोगों ने कहा कि चेन्नई से आने के बाद वह पुलिस और फिर ब्लॉक पर गया था, लेकिन किसी ने उसकी मदद नहीं की. इसके बाद वह पास के ही जंगल में चला गया और वहीं पर पत्ते इकट्ठा कर सो गया. इस बीच जब मजदूर के जंगल में रहने की बात फैली तो आनन-फानन में मौके पर पहुंची पुलिस उसको क्वारंटीन सेंटर ले गई. बता दें कि ओडिशा में शनिवार को कोविड-19 के 173 मामले सामने आए, जो किसी एक दिन की सर्वाधिक संख्या है. इन नए मामलों के साथ राज्य में कोरोना वायरस के कुल मामले 2,781 हो गए। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि 173 मरीजों में से 150 लोग पृथक-वास केंद्रों में हैं, जहां विभिन्न राज्यों से लौटने वाले लोगों को रखा गया है. संक्रमितों के संपर्क में आये लोगों की पहचान करने के दौरान संक्रमण के 23 अन्य मामलों का पता चला.

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |