# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

8 बार गर्भपात, 6 वर्ष तक शारीरिक शोषण, मंदिर मे रचाई शादी (आशुतोष सिंह की रिपोर्ट)

Post 1

पुलिस गिरफ्त से दूर आरोपी, पीड़िता पर शिकायत वापसी का दबाव…

इंट्रो- थाना करनपठार क्षेत्र अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत बेनीबारी की युवती शहडोल मे पढाई के दौरान लीलाटोला निवासी रोहित चौकसे के संपर्क मे आई दोनों साथ रहते हुये एक दिन मंदिर मे शादी कर ली साथ ही शपथ पत्र में अपने रिश्ते की बात दर्ज करा पति पत्नी की तरह रहने लगे। 6 वर्षो के रिस्ते मे महिला 8 बार गर्भवती हुई जिसका गर्भपात दवाई के माध्यम से रोहित कराता रहा। एक वर्ष पूर्व रोहित चौकसे ने अन्य महिला से शादी कर अपना अलग घर बसा लिया और एक बेटे का पिता बन गया। महिला को जब धोखे की भनक लगी तब थाने पहुंच आपबीती बता शिकायत दर्ज कराई।

 

अनूपपुर। जिले के दूरांचल मे बसे ग्राम बेनीबारी की रहने वाली युवती पूजा (परिवर्तित नाम) उम्र 25 वर्ष 2014-15 मे शहडोल जिले के शम्भुनाथ काॅलेज मे बीएससी मैथ मे अध्ययनरत थी। पढ़ाई के सुरुआती वर्षो मे पूजा शहडोल के बसस्टैण्ड के पास किराये के मकान मे रहती थी। पूजा व रोहित चौकसे पहले से ही एक दूसरे के परिचित रहे है। दिनांक 13.12.2015 को रोहित चौकसे लगभग दिन के 12 बजे पूजा के कमरे मे तबियत खराब बताकर आया और रुकने की बात करते हुये रुक गया देर रात रोहित चौकसे ने पूजा से प्यार का इजहार कर शारीरिक संबध बनाये और शादी करने की बात कही। यह क्रम बीते वर्ष तक बदस्तूर चलता रहा। इसी बीच पूजा ने दो अन्य जगह किराये के मकान बदले वहां भी रोहित चौकसे का आना जाना रुकना चलता रहा। रोहित और पूजा के बने शारीरिक संबधों से पूजा आठ बार गर्भ धारण की जिसका रोहित द्वारा दवाई खिलाकर गर्भपात कराया गया। रोहित द्वारा जब अपने ही समाज की अन्य महिला से शादी करली और एक बच्चे का बाप बन गया तब पूजा को अपने साथ हुये भयानक विस्वासघात, शारीरिक शोषण की भनक लगी तब पीड़ित महिला गृह ग्राम पहुंच निकटवर्ती थाना करनपठार मे मामला दर्ज कराई जहां थाना पुलिस ने 376, 376/2, 506 एसटीएससी के तहत मामला पंजीबद्ध कर लिया है।

Post 2

यदि गर्भपात, तो कहां से आई गोलियां

पीड़िता ने बताया कि रोहित चौकसे के साथ पांच वर्षो तक बतौर पत्नी के रुप मे रहती आई है। साथ रहने के दौरान बने शारीरिक संबधों से वह आठ बार गर्भ धारण कर चुकी है। गर्भधारण पश्चात दवाईयों के माध्यम से गर्भपात कराया गया। पीड़िता ने बताया कि मै मां बनना चाहती थी तब रोहित द्वारा समझाईस दी गई कि अभी तुम पढ़ लो और मै व्यवस्थित हो जाऊं फिर हम बच्चे को धरती पर लायेगें। पीड़िता द्वारा बताई गई बात यदि सच है तब गर्भ गिराने की ये दवाईयां रोहित चैकसे द्वारा कहां से लाई गई। मामले की गंभीरता को समझकर जांच की गई तब उन पैरामेडिकल पर भी गाज गिर सकती है जो थोडे़ से पैसों के लिये किसी कि जिंदगी दांव पर लगा देते है। रोहित चौकसे पर लगी अब तक की धाराओं के साथ भ्रूण हत्या का भी मामला दर्ज किया जा सकता है।

आरोपी घर मे, पीड़िता लगा रही चक्कर

थाना करनपठार मे दिनांक 29.07.2020 को पीड़िता ने शिकायत दर्ज करते हुये बताया कि मेरे साथ हुई घटना का मास्टर माइंड रोहित चौकसे पिता राजू चौकसे उम्र 27 वर्ष लीलाटोला ग्राम का रहने वाला है। पुलिस ने शिकायत के आधार पर 376, 376/2, 506 आईपीसी की धाराये 3 (2), 5 एससीएसटी के तहत मामला पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया है। 11 दिन बीत जाने के बाद भी आरोपी रोहित चौकसे की गिरफ्तारी नही हो सकी है और न ही पुलिस द्वारा पता तलासी की जा रही है। यदि ऐसा नही है तो रोहित चौकसे आराम से अपने घर पर अराम नही कर रहा होता। पीड़ित महिला करनपठार थाने मे शिकायत दर्ज करा सोहागपुर थाना, आजाका थाना के चक्कर लगा रही है तो आरोपी के पिता पैसे के लालच व समझाइस रुपी धमकियों के सहारे उस पर शिकायत वापसी का दबाव बना रहे है।

तो किसे मिलेगा पत्नी का दर्जा……

रोहित चौकसे द्वारा 31.10.2018 को 50 रुपये के स्टाम पेपर मे शपथ पत्र लिख उल्लेख किया गया कि मै शपथकर्ता पूजा (परिवर्तित नाम) उम्र 25 वर्ष निवासी बेनीबारी से बीते 5 वर्षो से पत्नी की तरह शारीरिक व मानसिक संबध बना कर रहता आया हूं। वर्ष 2019 तक हम दोनों कोर्ट मैरिज व हिन्दू रीति रिवाज से शादी करेंगे। इधर दोनों ने मंदिर मे भी दिनांक 16 मई 2019 को शादी कर फोटो खिंचाये जो शिकायतकर्ता ने पुलिस को दिये है। इधर रोहित अपने परिजनों द्वारा लगाई गई शादी दिनांक 21 मई 2019 को अन्य महिला के साथ कर ली अब उसका एक बेटा भी है। अब दोनो ही महिला के सामने बड़ा प्रश्न उठता है कि वैधानिक पत्नी कौन है ? हलांकि कानून इस विवाद मे किसी एक को ही यह दर्जा देगा किन्तु इससे दूसरे की पीड़ा को कम नही कहा जा सकता।

इनका कहना है

हमारे द्वारा मामला पंजीबद्ध कर सोहागपुर थाने को विवेचना के लिये भेज दिया गया है। हालाकि पीड़िता का घर हमारे थाना अंतर्गत आता है लेकिन घटना स्थल सोहागपुर है।
एसएस परस्ते
थाना प्रभारी करनपठार

मेरी बहन के साथ अन्याय ही नही अब उसे मानसिक परेशान भी किया जा रहा है हमारा घर परिवार समाज बहन के साथ न्याय मिलने तक खड़ा रहेगा
दुर्गेश श्याम
पीड़िता का भाई

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |