मंडी ।

हिमाचल प्रदेश में मंडी जिल के नेरचौक बाजार में सोमवार तड़के तीन मंजिला मकान में आग लगने से पांच लोगों की दम घुटने से मौत हो गई है। आग इतनी भीषण थी कि किसी को संभलने और बाहर निकलने का मौका तक नहीं मिला। मकान में अब भी लोग फंसे हुए हैं, बचाव कर्मियों का दल लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने के काम में जुटा है। इस बीच अनुमान लगाया जा रहा है कि बिल्डिंग में गैस सिलेंडर फटने से आग लगी है।

नेरचौक के कपड़ा व्यापारी विजय सोनी की बेटे की शादी चल रही थी। बारात सुंदरनगर गई हुई थी। रात करीब दो बजे बारात से लोग अपने घर वापस आए। सुबह करीब साढ़े चार बजे सेवानिवृत्त सहायक अभियंता नरेंद्र सोनी के कमरे में अचानक आग भड़क गई। देखते ही देखते आग ने तीनों मंजिलों को अपनी आगोश में ले लिया। इस दौरान किसी को बाहर निकलने का मौका नहीं मिला।

लोगों ने फायर बिग्रेड और पुलिस को सूचना दी। वहां मौजूद लोगों ने खिड़की तोड़कर एक मंजिल से नरेंद्र सोनी (पुत्र जीवन सोनी) व उनकी पत्नी बीना सोनी (निवासी नेरचौक) को बाहर निकाला। उन्हें साथ लगते नागरिक अस्पताल ले गए, चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

करीब एक घंटे बाद आए दमकल कर्मियों ने आग पर काबू पाया। वहीं पुलिस की टीम भी मौके पर पहुंची। स्थानीय लोगों के सहयोग से आग बुझाने का कार्य शुरू हुआ। इस दौरान निचली मंजिल से दो महिलाओं व एक बच्चे का शव बरामद किया। इसमें सुदेश सोहल पत्नी प्रेम सोनी, मोना पत्नी अमित कुमार व साहिल पुत्र अमित कुमार निवासी सभी शिमला शामिल है।

राहत व बचाव कार्य अब तक चल रहा है। इसकी पुष्टि पुलिस अधीक्षक गुरदेव शर्मा ने की है। उन्होंने कहा कि आग से पांच लोग जिंदा जल गए हैं। वहीं लाखों रुपये का नुकसान हुआ है।

By Nancy Bajpai