# भारत में रिकार्ड ; एक ही दिन में मिले 26000 हजार से ज्यादा मामले ## भारत में कोरोना का कुल आकड़ा 822,603 # वहीँ 516,206 मरीज ठीक हुए,तो वहीँ 22,144 लोगों की हुई मौत # # भारत विश्व में कोरोना के चपेट में पंहुचा तीसरे नंबर पर ये बढ़ता आकड़ा, डराने वाला है # वही रिकवर मरीजों की संख्या भारत में बेहतर ##

Post 5

क्या वाकई CM हाउस से बोरिया-बिस्तर समेट रहे शिवराज, जानिए सच्चाई

Post 1

मध्य प्रदेश में चुनाव खत्म होने के बाद भी बीजेपी और कांग्रेस में लेटर वॉर खत्म नहीं हो रहा है. चुनाव में मतदान होते ही अब एक ऐसा लेटर सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है जिससे सीएम हाउस तक हिल गया है, क्योंकि इस बार सीएम शिवराज द्वारा मुख्यमंत्री आवास खाली करने का बिल वायरल हुआ है.

सोशल मीडिया में जो बिल वायरल हो रहा है उसमे शिवराज सिंह चौहान का न सिर्फ नाम लिखा है बल्कि जिस घर से सामान शिफ्ट करना है उसमें पता सीएम हाउस का लिखा है और साथ ही शिवराज के बेटे कार्तिकेय के नाम से एक मेल आईडी भी दी गई है.

बिल में ये सामान महाराष्ट्र के गोंदिया भेजने के लिए 15 लाख का खर्चा दिखाया गया है. इस बिल की सच्चाई जानने के लिए आजतक की टीम भोपाल के विद्यानगर इलाके में बने पैकर्स एंड मूवर्स के दफ्तर पहुंची. दफ्तर में हमें मिले यहां काम करने राहुल गुप्ता मिले.

Post 2

राहुल ने वायरल हो रहे बिल में कई गलतियां पकड़ी और बताया कि उनकी कंपनी से जो बिल जारी किए जाते हैं वो इससे बिल्कुल अलग होते हैं. राहुल ने बताया कि वायरल हो रहे बिल में सिवाय कंपनी के लोगों के कुछ भी असली नहीं है. राहुल ने हमें बताया कि कंपनी के पास भी इस वायरल बिल की जानकारी आई थी, जिसके बाद पुलिस में इसकी शिकायत की गई.

कंपनी के कर्मचारियों ने बताया कि वायरल हो रहा बिल कैसे कंपनी  द्वारा जारी किए जाने वाले बिल से अलग है. वायरल हो रहे बिल में कंपनी का लोगो बाएं तरफ है, जबकि असली बिल में ये लोगो दाईं तरफ एक फोटो के बाद होता है.

वायरल हो रहे बिल में कंपनी के नाम की स्पेलिंग भी गलत है. (Fake में Agrwal और Real में Agarwal)वायरल हो रहे बिल में नकदी के आवागमन का ज़िक्र है, जबकि कंपनी कभी भी कैश का आवागमन नहीं करती और उसके लिए ग्राहक को ही कैश साथ ले जाना होता है. वायरल बिल में जीएसटी नंबर भी गलत लिखा है.

एफआईआर हुई दर्ज

मामला सीएएम हाउस से जुड़ा था लिहाजा कंपनी ने बिना देर किए इसकी शिकायत पुलिस में की. सायबर एसपी राजेश भदौरिया ने आजतक को बताया कि मामले में सायबर सेल ने IPC 469 और आईटी एक्ट की धारा 66(C) और 66(D) के तहत मामला दर्ज कर लिया.  

बीजेपी ने बताया कांग्रेस की शरारत

इन सबके बीच सीएम शिवराज के सीएम हाउस खाली कराने वाले वायरल कोटेशन को बीजेपी प्रवक्ता हितेश बाजपेयी ने कांग्रेस के डर्टी ट्रिक्स डिपार्टमेंट का काम बताया है तो वहीं कांग्रेस का कहना है कि ये डर्टी ट्रिक्स डिपार्टमेंट बीजेपी के पास है कांग्रेस ने तंज कसते हुए कहा कि सीएम हाउस तो जनता 11 तारीख को खाली करा लेगी.

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

सचिव रोजगार सहायक और सरपंच की मिलीभगत से पंचायत का हुआ बंटाधार (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     ग्राम पंचायत जीलंग सचिव, रोजगार सहायक हितग्राहियों से प्रधानमंत्री आवास का लाभ दिलाने के नाम पर कर रहे है अवैध वसूली -(पूरन चंदेल की रिपोर्ट- )     |     पट्टे की भूमि पर लगी धान की फसल में सरपंच/सचिव/रोजगार सहायक करा दिए वृक्षारोपण (पूरन चंदेल की रिपोर्ट)      |     ग्राम पंचायत किरगी के नाली निर्माण भ्रस्टाचार की फिर खुली पोल {मनीष अग्रवाल की रिपोर्ट}     |     ओवरलोडिंग से सड़कों की हो रही खस्ताहाल ट्रक ट्रेलर मोटर मालिक हो रहे मालामाल {वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की रिपोर्ट}     |     क्या यहाँ ? इंसान की जगह आवारा कुत्तो को किया जाता है भर्ती {पुष्पेन्द्र रजक की रिपोर्ट}     |     कमिश्नर को दिया आवेदन पत्र, दुकानदार के कहने पर की थी शिकायत (रमेश तिवारी की रिपोर्ट))     |     युवा अपनी ऊर्जा सकारात्मक कार्यों में लगाएँ, सोशल मीडिया का करें सदुपयोग- कलेक्टर     |     अनुपपुर जिले में आगामी रविवार को नही रहेगा पूर्ण लॉकडाउन (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     धार्मिक स्थलों में ना करें सामूहिक पूजा- बिसाहूलाल सिंह (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |