# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

गणना के हर राउंड के बाद लिखित में मिलेगी परिणाम की जानकारी, अंतिम रिजल्ट में हो सकती है देरी

Post 1

भोपाल। इस बार हर राउंड के बाद चुनाव परिणाम को लिखित में दिया जाएगा. जिस वजह से अंतिम परिणाम आने में देरी हो सकती है. दरअसल कांग्रेस ने मांग की थी कि मतगणना के हर राउंड के बाद परिणामों की जानकारी लिखित में दी जाए, जिसे चुनाव आयोग ने मान लिया है.

इतना ही नहीं हर राउंड के परिणाम की घोषणा और प्रमाणपत्र देने के बाद ही दूसरे राउंड के लिए ईवीएम स्ट्रांग रूम से निकाली जाएगी. दरअसल मंगलवार यानि 11 दिसंबर को विधानसभा चुनाव की मतगणना होगी. इस बार हर राउंड के बाद परिणाम लिखित में पार्टी के प्रतिनिधि को दिया जाएगा. इसके बाद ही दूसरे राउंड की गणना के लिए ईवीएम निकाली जाएगी. यह प्रक्रिया सिर्फ मध्यप्रदेश ही नहीं, बल्कि सभी चुनावी राज्यों में होगी. हर विधानसभा क्षेत्रों में 14 टेबल में गणना का कार्य किया जाएगा. हर विधानसभा क्षेत्रों में लगभग 16 से 20 राउंड में गणना की जाएगी.

पढ़ें-कांग्रेस के ‘चाणक्य’ को चित कर सियासी हीरो बनने वाले सरताज सिंह का अब क्या होगा?

Post 2

सुबह 9 बजे से होगी ईवीएम के मतों की गणना

11 दिसंबर की सुबह आठ बजे से डाक मत पत्र और सेवा मतों की गणना की जाएगी. उसके बाद नौ बजे से ईवीएम के सील तोड़ी जाएगी. एक राउंड के बाद गणना कर्मचारी तब तक खाली बैठे रहेंगे, जब तक गणना के बाद टेबुलेशन, मिलान और घोषणा और अगले राउंड के लिए ईवीएम न निकाली जाए.

हर राउंड के बीच लगेगा 20 मिनट

इस बार चुनाव परिणाम आने में देरी होने की संभीवना है क्योंकि हर राउंड के बाद लिखित में प्रमाण पत्र देने, मतगणना कक्ष के डिस्प्ले बोर्ड पर प्रदर्शित, राउंड वार रिजल्ट शीट पार्टी के प्रतिनिधि को देना और काउंटिंग सॉफ्टवेयर पर भी लोड करने जैसे कार्यों में लगभग 15 से 20 मिनट का समय लग जाएगा. इस प्रकार से 16 से 20 राउंड के बीच कई घंटे अतिरिक्त लगेंगे. इस वजह से फाइनल परिणाम आने में देरी हो सकती है.

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

नौकरशाहों द्वारा मौलिक अधिकारों का हनन कलेक्टर को सौपा ज्ञापन     |     जांच के बाद भी नहीं हुई कार्यवाही जांच समिति द्वारा 7. 82 लाख की निकाली गई थी वसूली (रमेश तिवारी की रिपोर्ट)     |     जल संसाधन विभाग की 3 करोड 11 लाख की नहर छतिग्रस्त, टूटी नहर से कैसे पहुंचे खेतों में पानी किसान परेशान{रमेश तिवारी की रिपोर्ट}     |     खंडहर से उजाला…. गरीबों का मजाक तो नही…??@अनिल दुबे9424776498     |     एसडीएम की बात बीएमओ के कान का जूं……..@अनिल दुबे9424776498     |     खनन निगम रीवा द्वारा की गई जांच परसेल कला एवं हर्रा टोला क्रेशर की जांच मामला लीज से अधिक भूभाग पर उत्खनन का (रमेश तिवारी की रिपोर्ट)     |     सतर्कता ही हमारी पहचान कोरोना का खतरा अभी टला नही है, लखन रजक@अनिल दुबे9424776498     |     नोंनघटी मोड़ में बाइक सवार की टैक्टर से हुई भिड़ंत@अनिल दुबे 9424776498     |     हृदय विदारक घटना में 3 जिन्दा जले 1 फांसी पर झूला 1 की हालत नाजुक     |     अमरकंटक मे अवैध सट्टे को लेकर अमरकंटक वासियों ने हिमाद्रि सिंह को सौंपा ज्ञापन@अनिल दुबे9424776498     |