# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

अधीक्षक के तानाशाह रवैये से छात्राएं परेशान

Post 1

एसडीएम को सौपा ज्ञापन ( सुनील गुप्ता की रिपोर्ट )

राजेन्द्रग्राम 

मुख्यालय पुष्पराजगढ़ की रमसा (राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान ) बालिका छात्रावास की सैकड़ो बच्चियों ने कल सुबह ही तानाशाही के नारे लगाते हुए तहसील कार्यालय का घेराव किया और साथ ही एसडीएम को ज्ञापन सौंपा

Post 2

अध्यक्ष पर गंभीर आरोप

रमसा बालिका छात्रा वास की बच्चियों ने हॉस्टल अध्यक्ष के ऊपर आरोप लगाते हुए बताया कि 6-7 महीने से अध्यक्ष और अधीक्षिका के संयुक्त खाते के चेक पर साइन नही किया गया है जिससे बच्चियों को खाने के लाले पड़ गए साथ ही तेल, निरमा, साबुन एवं खाने का राशन दुकान दार को पैसे न देने की बजह से दुकानदार ने भी राशन देने से इनकार कर दिया है जब बच्चियों के पास खाने का एक दाना भी नही बचा तब सभी बच्चियों ने मिलकर अपने होस्टल की स्थिति (आईएएस ) एसडीएम बालगुरु के, को अवगत करने कार्यालय पहुच गए।

अधीक्षिका को कर रहा प्रताड़ित

रमसा (रास्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान) बालिका छात्रावास में 100 बच्चियों के रहने की ब्यावस्था है जो कि सन 2010 से संचालित है वार्डन अधीक्षिका ने बताया कि होस्टल अध्यक्ष की पत्नी पूर्व में रमसा हॉस्टल अधीक्षिका थी जिसके ट्रान्सफर के बाद तुलसी मरावी को अध्यक्ष भोग सिंह मारवी ने अपने बड़े अधिकारियों से कहकर हॉस्टल की अधीक्षिका का पद दिलवाया था मार्च 2017 को इसके बाद भी तुलसी मरावी को प्रभार देने से मना करते रहे तुलसी मरावी को कहते थे कि तुम समान लेकर हॉस्टल चलाओ पेमेंट मैं करूँगा चिंता नही करना और जब अधीक्षिका तुलसी मरावी नही मानी तो छात्रा वास के अध्यक्ष भोग सिंह मारवी ने चेक पर साइन करना ही बंद कर दिया और राशन दुकान, गैस एजेंसी, किराना दुकान, में मना कर दिया कि समान अधीक्षिका को न दे वरना पेमेंट मैं नही करूँगा इस तरह से कई छात्राओ के परिजनों के परिजन बनकर कलेक्टर से भी शिकायत किया गया है

 प्रताड़ित करने के आरोप

वार्डन अधीक्षिका ने कई महीनों तक उधारी राशन एवं अन्य सामाग्री ले कर हॉस्टल चलाने का प्रयास किया परंतु 100 बच्चियों का खर्च पूरा नही कर सकी तब आखिरकार उन्होंने कानून का सहारा लेना उचित समझा और ये सारा मामला प्रकाश में आ पाया हो सकता है कमीशन का चक्कर मे चल रहा हो परंतु सैकड़ो बच्चियों ने किसी का क्या बिगाड़ा है जो अपने घर से दूर रहकर शिक्षा ग्रहण करने के लिए अपने परिजनों से दूर रहती है और किसी जवाबदार ब्यक्ति को अपनी जवाब दारी का एहसास तक नही हो तब शासन की योजनाओं को पलीता लगना सम्भव हो जाता हैं।

इनका कहना है

हमने पांच सदस्यीय जाँच टीम गठित कर दी है जल्द ही समस्या को हल कर लिया जाएगा जब तक जांच हो रही है तब तक क्षत्राओं को खाने पीने की जिम्मेवारी हमारी है।
तहसीलदार पंकज नयन तिवारी

जाँच की जा रही है तथ्यात्मक रूप से जो सामने आएगा उस पर कार्यवाही की जाएगी।
यूके सिंह बघेल
जिला शिक्षा अधिकारी

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |