# भारत में रिकार्ड ; एक ही दिन में मिले 26000 हजार से ज्यादा मामले ## भारत में कोरोना का कुल आकड़ा 822,603 # वहीँ 516,206 मरीज ठीक हुए,तो वहीँ 22,144 लोगों की हुई मौत # # भारत विश्व में कोरोना के चपेट में पंहुचा तीसरे नंबर पर ये बढ़ता आकड़ा, डराने वाला है # वही रिकवर मरीजों की संख्या भारत में बेहतर ##

Post 5

भगवान भरोसे यातायात विभाग ( आशुतोष सिंह की रिपोर्ट )

Post 1

नाबालिगों और ऑटो चालकों पर नहीं होती कार्यवाही

शहर की यातायात व्यवस्था इस समय भगवान भरोसे चल रही है, यातायात व्यवस्था को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए विभाग द्वारा अलग से यातायात पुलिस थाने की स्थापना की गई है जो कि कोतवाली के पास स्थित है। जिसमें पर्याप्त स्टाफ मौजूद है, जानकारों की माने तो ट्रैफिक प्रभारी एवं उनका स्टाफ शहर से गुजरने वाले ट्रकों व अन्य वाहनों से एन्ट्री वसूलने में ही मशगूल रहते हैं। जिससे कि शहर की यातायात व्यवस्था दिनो-दिन बिगड़ती जा रही है। शहर में आधा दर्जन से अधिक की संख्या में अवैध ऑटो चल रहे हैं, जिनसे यातायात पुलिस माहवार अवैध पैसा वसूल कर उन्हें किसी भी रूट पर जाने की इजाजत दे रखा है। ये ऑटो चालक अपने वाहनो को बीच रोड पर खड़ा कर जाम लगा देते हैं और रास्ते में ही रोककर सवारियां भरते व उतारते हैं।

बाजार के भी यही हालात

Post 2

मुख्यालय स्थित बाजार की यातायात व्यवस्था चरमराई हुई है, इसमें सुधार के लिए यातायात पुलिस द्वारा लागू किए गए प्लान का ज्यादा असर नजर नहीं आ रहा है। बाजारों में पसरे अतिक्रमण की वजह से यहां दिन में अक्सर जाम की स्थिति बनी रहती है। हालात यह हैं कि लोगों का पैदल चलना भी दूभर बना रहता है। सब्जी मण्डी, शंकर मंदिर से बस्ती रोड जिले के प्रमुख कारोबारी केंद्रों में से एक हैं। यहां थोक और फुटकर की दुकानें और गोदाम हैं। नगर के अलावा आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के ग्राहक भी यहां खासी संख्या में पहुंचते हैं, जिससे दिन भर बाजारों में भीड़ जमा रहती है। लेकिन, यातायात नियंत्रण के समुचित इंतजाम नहीं होने की वजह से बाजारों में दिन में अक्सर जाम की स्थिति बनी रहती है। बाजारों की संकरी सड़कों के दोनों ओर अतिक्रमण पसरा होने की वजह से दुपहिया वाहनों को निकलने के लिए ज्यादा जगह नहीं बचती है। इससे ट्रैफिक जाम हो जाता है।

पैदल चलना होता है मुश्किल

बाजार के आसपास पार्किंग की व्यवस्था न होने की वजह से ग्राहक अपने दुपहिया वाहन लेकर बाजार में पहुंच जाते हैं। इससे स्थिति और भी खराब हो जाती है। गाडियां रेंगती हैं और पैदल चलने के लिए रास्ता निकालना लोगों के लिए मुश्किल पड़ जाता है। हालांकि, इससे निपटने के लिए यातायात पुलिस ने बाजार में दुकानदारों को समझाईश दी थी, लेकिन दुकानदारों पर इसका असर होता नजर नहीं आ रहा है।

बस्ती रोड में निकलना हुआ मुश्किल

शहर में नाबालिग वाहन चालकों की संख्या भी बहुत ज्यादा है, जो कि बिना लायसेन्स के वाहनों को फर्राटे से चला रहे हैं, यही कारण है कि आए दिन दुर्घटनाएं भी होती रहती हैं। यातायात पुलिस की नाकामी के चलते शंकर मंदिर से बस्ती रोड आवागमन के लिए दुष्कर बना हुआ हैं। वाहन चालकों ने बताया कि इस अव्यवस्था को देखकर लगता है कि नगर में यातायात पुलिस इस मार्ग में यातायात सुगम बनाने से परहेज करती है। यहां टैक्सी वाले, दुकान वाले सड़क पर कब्जा जमा लिए है। अब आम जनता निकले तो निकले कहां से। सुबह से दस बजे और शाम सात बजे तक यहां से निकलना टेढ़ी खीर है। प्रशासन के बड़े अधिकारी अगर इस समस्या देख ले तो समझ में आयेगा कि यहां से निकलने वाले रोज कितनी समस्याओं का सामना कर रहे है। इस मार्ग से रोज गुजरने वालो ने पुलिस प्रशासन से मांग की है कि इस मार्ग में आवागमन को सुगम बनाया जाये।

मालवाहक वाहन से भी खुले आम ढ़ोई जाती है सवारी

जहां एक ओर ऑटो प्रदूषण फैलाकर बेलगाम दौड़ती है वहीं मालवाहक वाहन पिकअप आदि से भी सवारियां ढ़ोई जाती है जिले के कई जगह हुये सड़क हादसे मे मालवाहक वाहन पर सवार सवारियो को अपनी जान गवानी पड़ी है जिससे सीख लेते हुये यातायात विभाग इन पर लगाम नही लगा रहा है आखिर अब यदि ऐसे हादसे होते है तब इन मौतो का जिम्मेदार कौन होगा ? वहीं दूसरी तरफ भारी वाहनों मे ओवरलोड सामग्री लदी आसानी से देखी जा सकती है जिन पर विभाग मेहरबान बना हुआ है।

इनका कहना है

हम लगातार कार्यवाही करते है कभी आरटीओ के माध्यम से और कभी माइनिंग के माध्यम से।
यातायात प्रभारी
बृजेन्द्र मिश्रा
अनूपपुर

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

सचिव रोजगार सहायक और सरपंच की मिलीभगत से पंचायत का हुआ बंटाधार (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     ग्राम पंचायत जीलंग सचिव, रोजगार सहायक हितग्राहियों से प्रधानमंत्री आवास का लाभ दिलाने के नाम पर कर रहे है अवैध वसूली -(पूरन चंदेल की रिपोर्ट- )     |     पट्टे की भूमि पर लगी धान की फसल में सरपंच/सचिव/रोजगार सहायक करा दिए वृक्षारोपण (पूरन चंदेल की रिपोर्ट)      |     ग्राम पंचायत किरगी के नाली निर्माण भ्रस्टाचार की फिर खुली पोल {मनीष अग्रवाल की रिपोर्ट}     |     ओवरलोडिंग से सड़कों की हो रही खस्ताहाल ट्रक ट्रेलर मोटर मालिक हो रहे मालामाल {वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की रिपोर्ट}     |     क्या यहाँ ? इंसान की जगह आवारा कुत्तो को किया जाता है भर्ती {पुष्पेन्द्र रजक की रिपोर्ट}     |     कमिश्नर को दिया आवेदन पत्र, दुकानदार के कहने पर की थी शिकायत (रमेश तिवारी की रिपोर्ट))     |     युवा अपनी ऊर्जा सकारात्मक कार्यों में लगाएँ, सोशल मीडिया का करें सदुपयोग- कलेक्टर     |     अनुपपुर जिले में आगामी रविवार को नही रहेगा पूर्ण लॉकडाउन (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     धार्मिक स्थलों में ना करें सामूहिक पूजा- बिसाहूलाल सिंह (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |