# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

अंधी हत्या का हुआ खुलासा रेत में दबी अधजली मिली थी लास ( आशुतोष सिंह की रिपोर्ट )

Post 1

पुष्पराजगढ़:-

राजेन्द्रग्राम थाना अंतर्गत ग्राम मलैकी में अधजली हालत पर नदी के रेत में दबी हुई लास मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई थी। अज्ञात लास मिलने के महज 48 घण्टो के अंदर अंधी हत्या की गुत्थी को राजेन्द्रग्राम पुलिस ने सुलझा लिया है ।

पत्नी के साथ आपत्तिजनक स्थिति मे देेख पति ने अधेड़ की कर दी थी हत्या

Post 2

पत्नी के साथ जबरजस्ती करते देख पति फूल सिंह ने नत्थू यादव की हत्या कर दी। अधमरे हालत में ही उसके ऊपर पेट्रोल डालकर जला दिया। इस घटना में उसकी पत्नी ने भी उसका साथ दिया। जली हुई लास को पुराने गढ्ढे में लपेट कर पास में ही बह रही जोहिला नदी के रेत में दबा दिया। मृतक नत्थू यादव अनूपपुर जिले के पुरानी बस्ती का निवासी था नत्थू यादव 4 दिसंबर को अपने घर से मलैकी जा रहा हूँ कह कर निकला उसके बाद अपने घर कभी वापस ना आ सका। जब 5 दिसम्बर की शाम तक घर नही आया तब घर वालों ने मृतक नत्थू यादव की तलाश सुरू कर दिया कई दिनों तक ढूंढने पर भी नत्थू यादव का कोई पता नही चला तब परिजनों ने 12 दिसंबर को अनूपपुर कोतवाली पहुच कर गुमसुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई उसके बाद पुलिस नत्थू यादव की तलाश सुरु की 1 जनवरी को राजेन्द्रग्राम थाने में मृतक के दमाद ने नत्थू यादव के बारे कुछ जानकारी दी जिसके बाद पुलिस ने खोजबीन तेज करते हुए घटना स्थल पहुंची। मौके पर पहुँच कर नदी के किनारे खोदाई करने पर पुलिस को नत्थू नत्थू यादव की अधजली लास मिली जिसको पुलिस सुपुर्दगी में लेकर पंचनामा पीएम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया।

मामला मलैकी गांव का है जहां पर मृतक नत्थू यादव मेहमानी में फूल सिंह के घर गया हुआ था। फूल सिंह के घर पर दावत के साथ शराब का सेवन सभी ने किया। देर रात नशे की हालत में मृतक नत्थू सिंह फूल सिंह की पत्नी सुनिरा बाई के साथ जबरजस्ती करने की कोशिश करने लगा। तब सुनिरा बाई ने अपने बचाव के लिए पति को आवाज लगाई। गुस्से में पति-पत्नी ने मिलकर लात घूंसे से नत्थू यादव को मारा फिर भी फूल सिंह का गुस्सा शांत नही हुआ तब उसने पास रखे पेट्रोल को मृतक के ऊपर डाल कर आग लगा दी जिससे नत्थू यादव जिंदा ही जल गया और उसकी मौत हो गई। फिर बिछौने से लपेट कर जोहिला नदी के किनारे गड़ा दिया पुलिस ने मामले को 48 घंटे में ही सुलझा लिया और आरोपी पति पत्नी को न्यायालय में पेश कर न्यायायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

इनकी रही प्रमुख्य भूमिका

थाना राजेन्द्रग्राम के थाना प्रभारी खेम सिंह पेन्द्रों , एसआई दयावती मरावी, एसआई डीएस मरावी, एएसआई अकबर खान, प्रधान आरक्षक विश्वनाथ तिवारी, सहित समस्त राजेन्द्रग्राम थाना स्टाफ का योगदान प्रमुख्य रहा।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

सचिव रोजगार सहायक और सरपंच की मिलीभगत से पंचायत का हुआ बंटाधार (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     ग्राम पंचायत जीलंग सचिव, रोजगार सहायक हितग्राहियों से प्रधानमंत्री आवास का लाभ दिलाने के नाम पर कर रहे है अवैध वसूली -(पूरन चंदेल की रिपोर्ट- )     |     पट्टे की भूमि पर लगी धान की फसल में सरपंच/सचिव/रोजगार सहायक करा दिए वृक्षारोपण (पूरन चंदेल की रिपोर्ट)      |     ग्राम पंचायत किरगी के नाली निर्माण भ्रस्टाचार की फिर खुली पोल {मनीष अग्रवाल की रिपोर्ट}     |     ओवरलोडिंग से सड़कों की हो रही खस्ताहाल ट्रक ट्रेलर मोटर मालिक हो रहे मालामाल {वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की रिपोर्ट}     |     क्या यहाँ ? इंसान की जगह आवारा कुत्तो को किया जाता है भर्ती {पुष्पेन्द्र रजक की रिपोर्ट}     |     कमिश्नर को दिया आवेदन पत्र, दुकानदार के कहने पर की थी शिकायत (रमेश तिवारी की रिपोर्ट))     |     युवा अपनी ऊर्जा सकारात्मक कार्यों में लगाएँ, सोशल मीडिया का करें सदुपयोग- कलेक्टर     |     अनुपपुर जिले में आगामी रविवार को नही रहेगा पूर्ण लॉकडाउन (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     धार्मिक स्थलों में ना करें सामूहिक पूजा- बिसाहूलाल सिंह (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |