# भारत में रिकार्ड ; एक ही दिन में मिले 26000 हजार से ज्यादा मामले ## भारत में कोरोना का कुल आकड़ा 822,603 # वहीँ 516,206 मरीज ठीक हुए,तो वहीँ 22,144 लोगों की हुई मौत # # भारत विश्व में कोरोना के चपेट में पंहुचा तीसरे नंबर पर ये बढ़ता आकड़ा, डराने वाला है # वही रिकवर मरीजों की संख्या भारत में बेहतर ##

Post 5

चिट फंड कम्पनीयों का बना गढ़ ( आशुतोष सिंह की रिपोर्ट )

Post 1

रिलायबल क्रेडिट को ऑपरेटिव सोसायटी लिमिटेड कर रही फर्जी बैंकिंग व्यवसाय

कोतमा थानान्तर्गत वार्ड नं 7 बनिया टोला ज्योति पेट्रोल पंप के पास संचालित रिलायबल क्रेडिट को ऑपरेटिव सोसायटी लिमिटिड एवम बंजारा चैक केशवाही रोड पर जगह जगह चिट फंड कम्पनियां खोली जा रही है जो वर्तमान मे जिला अंतर्गत फर्जी बैंकिंग व्यवसाय का गढ़ बना हुआ है। कोतमा नगर मे कम्पनियों द्वारा जगह जगह ऑफिस खोलकर सीधे साधे अनपढ़ लोगों से तीन वर्षों में उनके द्वारा जमा की गई रकम को तिगुना करने का लालच दिया जाता है। लालच मे आकर लोग अपनी जिंदगी भर की जमा पूंजी कम्पनियों में जमा करवा बैठते हैं और कुछ ही वर्षों में ये फर्जी कम्पनीयां वहां से रफूचक्कर हो जाती हैं। खाता धारकों को यह पता चलता है कि उनके साथ संचालक वा एजेंटो द्वारा बहुत बड़ा छलावा किया जा चुका है। जब ठगी का शिकार हुये लोग अपनी जिंदगी भर की कमाई का तिगुना हुये पैसे लेने उक्त कम्पनियों के कार्यालय जाते हैं तब कम्पनियां अपनी दुकान बंद कर फरार हो चुकी होती है और कार्यालय में बड़ा सा ताला लटका रहता है। ऐसे मे खाताधारक जिंदगी भर की कमाई गवांकर आत्महत्या कर लेते हैं या शिकायत लेकर थाने के चक्कर लगाते रहते है पैरों के चप्पल घिस जाने पर भी उन्हें न्याय नही मिल पाता और ना ही डूब चुके पैसे का कुछ पता चल पाता है।

पहले भी ऐसी कम्पनियों पर मामले हो चुके हैं दर्ज

Post 2

कोतमा बुढानपुर रोड़ में संचालित चिट फंड कम्पनी यश ग्रुप जो सैकड़ों लोगों के साथ धोखा धड़ी करके उनकी जिंदगी भर की जमा पूंजी लेकर नौ दो ग्यारह हो गयी और लोगो के लाखों करोड़ों पलक झपकते ही डूब गये। जब लोगों को इस बात की जानकारी लगी कि कम्पनी चिट फंड करके ग्राहकों के साथ धोखा धड़ी कर रही है तब तक देर हो चुकी थी। यश ग्रुप के खाता धारकों द्वारा यश ग्रुप कम्पनी के 8 डाइरेक्टरों और एक मैंनेजेर लतीफ अहमद सिद्दीकी के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज हुई और कम्पनी के विरुद्ध धोखा धड़ी का मामला दर्ज किया गया और आज यह मामला उच्च न्यायालय जबलपुर में लंबित है। लोगो के पास न्यायालय से न्याय मिलने की आस के सिवा कुछ भी नही है।

रिलायबल क्रेडिट को ऑपरेटिव सोसायटी लिमिटेड वा कैमोर सोसायटी लिमिटेड कम्पनी कर रही है फर्जी बैंकिंग

नगर में संचालित इन कम्पनियों का पंजीयन भारत सरकार मे होना बताकर आम जनता की आँखों में धूल झोका जा रहा है। दुग्ध कार्य हेतु वा मिनरल वाटर प्लांट जमीन क्रय विक्रय का रजिस्ट्रेशन कराकर बैंकिंग का कार्य किया जा रहा है। हजारों एजेंट जगह जगह फैले हुए हैं। आम जनता को अपने कम्पनियों की संपूर्ण जानकारी ना देते हुये फर्जी बैंकिंग मे पैसा जमा कराया जाता है। सीधे साधे ग्राहकों के साथ खुले आम छल किया जा रहा है। कम्पनी द्वारा लाखों करोड़ों रूपये आम जनता का जमा करा लिया गया है। इधर कम्पनी मालिकों द्वारा जमीन वा सोना खरीदी में इन पैसों को लगाया जाता है। यह फर्म बुढानपुर तिराहे मे संचालित ज्योति पेट्रोल पंप से लगे हुये साहू मकान के द्वितीय मंजिल में संचालित है। रिलायबल कम्पनी समय समय पर अपने ठीहे और ऑफिस बदल देती है जो बैंकिंग के नाम से पंजीयन न होते हुए भी बैन्किंग का कार्य कर रही है। पैसे का लेनदेन ऑफिस में हो रहा है। चिट फंड कम्पनियों के संचालकों द्वारा बड़ी चालाकी से भारत सरकार से पंजीयन की कॉपी संबधित थाना में देकर शासन की आँखों में भी धूल झोंक दिया गया है। बैंकिंग व्यवसाय की अनुमति के बिना भी जमा एवम निकासी का कार्य वर्तमान मे किया जा रहा है। आम जनता की जमा रकम को कुछ वर्षों में ही दोगुना करने के चक्कर में पैसा जमा कराया जा रहा है।

इनका कहना है

जल्द ही अनुविभागीय क्षेत्रों में संचालित कम्पनियों की जानकारी वा दस्तावेज मंगाकर जांच कराता हूँ। यदि बैंकिंग व्यवसाय पंजीयन के बिना किया जा रहा है तब उक्त कम्पनियों पर कड़ी कानूनी कार्यवाही की जायेगी।
एस एन प्रसाद
एस डी ओ पी कोतमा

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

सचिव रोजगार सहायक और सरपंच की मिलीभगत से पंचायत का हुआ बंटाधार (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     ग्राम पंचायत जीलंग सचिव, रोजगार सहायक हितग्राहियों से प्रधानमंत्री आवास का लाभ दिलाने के नाम पर कर रहे है अवैध वसूली -(पूरन चंदेल की रिपोर्ट- )     |     पट्टे की भूमि पर लगी धान की फसल में सरपंच/सचिव/रोजगार सहायक करा दिए वृक्षारोपण (पूरन चंदेल की रिपोर्ट)      |     ग्राम पंचायत किरगी के नाली निर्माण भ्रस्टाचार की फिर खुली पोल {मनीष अग्रवाल की रिपोर्ट}     |     ओवरलोडिंग से सड़कों की हो रही खस्ताहाल ट्रक ट्रेलर मोटर मालिक हो रहे मालामाल {वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की रिपोर्ट}     |     क्या यहाँ ? इंसान की जगह आवारा कुत्तो को किया जाता है भर्ती {पुष्पेन्द्र रजक की रिपोर्ट}     |     कमिश्नर को दिया आवेदन पत्र, दुकानदार के कहने पर की थी शिकायत (रमेश तिवारी की रिपोर्ट))     |     युवा अपनी ऊर्जा सकारात्मक कार्यों में लगाएँ, सोशल मीडिया का करें सदुपयोग- कलेक्टर     |     अनुपपुर जिले में आगामी रविवार को नही रहेगा पूर्ण लॉकडाउन (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     धार्मिक स्थलों में ना करें सामूहिक पूजा- बिसाहूलाल सिंह (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |