# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

आंगन बाड़ी कर्मचारियों को तीन माह से नहीं मिल रहा मानेदय ( अजय जायसवाल की रिपोर्ट )

Post 1

…तो क्या इसी बदलाव के लिए चुनी थी सरकार

चुनाव से पहले कांग्रेस ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाओं को अपने घोषणा पत्र में नियमित करने का वादा किया था। इसके साथ ही अन्य वादों को सामने रखकर कर्मचारियों का वोट लेने वाली कांग्रेस पार्टी सरकार में आते ही कर्मचारियों के बुरे दिन शुरू हो गये। नियमित करने की बात अभी कोशों दूर है यहां तो मानदेय के लाले पड़ गये है। नवम्बर से लेकर अभी तक महिला बाल विकास विभाग के अंतर्गत काम करने वाली आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं को मानदेय नहीं मिल रहा है, जिससे उनकी माली हालत खस्ता हो गई है।

उम्मीदो पर फिरा पानी

Post 2

महिला बाल विकास विभाग के अंतर्गत कार्यरत आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका जहां नियमित करने की उम्मीद लेकर बैठी थी। वह तो हुआ नहीं पर जो मानदेय मिलता रहा वह भी बंद हो गया है। काम के बोझ तले दबे इन कर्मचारियों को एक तो पहले से ही मानदेय कम मिलता था, उपर से नई सरकार ने नवम्बर से वह भी देना बंद कर रखा है। ऐसी स्थिति में कर्मचारियों के उम्मीदो पर पानी फिर रहा है।

कैसे चले घर का खर्चा

तीन-तीन माह से कर्मचारियों को मानदेय न मिलने से उनके घर की हालत खस्ता हो गई है ऐसी महिलाएं जिनके आगे पीछे कोई कमाने वाला नहीं है और उनका खर्चा केवल उनके मानदेय से ही चलता हो, ऐसे कर्मचारियों की हालत काफी खराब हो गई है।

केवल इसी विभाग में बजट की कमी

सवाल यह उठता है कि यदि नई सरकार तमाम सरकारी विभागो के कर्मचारियों को वेतन दे रही है तो सबसे कम मानदेय पाने वाली आंगनबाड़ी कर्मचारियों को तीन माह से मानदेय आखिर क्यों नहीं दिया जा रहा है ? यह अपने आप में एक बड़ा सवाल है।

इनका कहना है

उपर से बजट नहीं आया है जिसके कारण कर्मचारियों को मानदेय नहीं दिया जा सका है। हमारे द्वारा बजट की मांग उपर भेजी गई है जैसे ही बजट उपलब्ध होगा, कर्मचारियों को भुगतान किया जायेगा।
मंजूलता सिंह
जिला महिला बाल विकास अधिकारी, अनूपपुर

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |