# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

पंचो का अविस्वास प्रस्ताव पास, अब नही रही विमला बाई सरपंच ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )

Post 1

मामला बेलडोंगरी पंचायत का

पुष्पराजगढ़।

जिले की सबसे बड़ी जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ के गाम पंचायत बेलडोंगरी के पंचों द्वारा सरपंच रही विमला बाई के उपर 11 पंचों द्वारा अविस्वास प्रस्ताव 3 जनवरी 2019 को लाया गया था। विगत कई दिनों से प्रशासन द्वारा अविस्वास की सुनवाई की तारीख मे बदलाव किया जाता रहा है नाराज पंचो समेत ग्रामीण 01.03.2019 को जिला कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर के पास तारीखो की बदलाव को लेकर शिकायत किये जिसमे संज्ञान लेते हुये जिला कलेक्टर ने अविस्वास की सुनवाई हेतु ग्राम पंचायत भवन बेलडोंगरी मे 05.03.2019 की तारीख तय की सुनवाई के दौरान उपस्थित पीठासीन अधिकारी नायब तहसीलदार आदित्य प्रताप द्विवेदी ने पाया कि उपस्थित पंचों मे दो तिहाई से अधिक सदस्य अविस्वास प्रस्ताव के पक्ष मे है और इस प्रकार विमला बाई अब ग्राम पंचायत बेलडोंगरी की सरपंच नही रही।

Post 2

ऐसा पारित हुआ अविस्वास प्रस्ताव

दिनांक 05.03.2019 को प्रातः 11 बजे से ग्राम पंचायत बेलडोंगरी मे अनुविभागीय अधिकारी पुष्पराजगढ़ के प्रकरण क्रमांक/147/प्र. क. /001/अ-89 (6)/2018-19 आदेश दिनांक 02.03.19 के पालन मे ग्राम पंचायत बेलडोंगरी की सरपंच विमला बाई के विरुद्ध अविस्वास प्रस्ताव के संबंध मे विशेष बैठक का आयोजन किया गया। बैठक के दौरान पंचो की पहचान परिचय पत्र के आधार पर की गई फिर सभी पंचो को अविस्वास प्रस्ताव के बारे मे जानकारी दी गई। पंच कुलदीप श्याम द्वारा उपस्थित समस्त पंचों के समक्ष विचार रखते हुये कहा गया कि विमला बाई द्वारा ग्राम सभा की बैठक नही बुलाई जाती। आय व्यय की जानकारी, हितग्राही मूलक कार्यो की जानकारी आदि नही दिये जाने के कारण अविस्वास प्रस्ताव लाया गया है। इस प्रकार समस्त पंचों से पीठासीन अधिकारी द्वारा चर्चा की गई और गुप्त मतदान करने की बात कही गई। उपस्थित पंचो द्वारा किये गये गुप्त मतदान मे विमला बाई के पक्ष मे 4 मत एवं विपक्ष मे 11 मत गणना के समय पाये गये। इस प्रकार लाया गया अविस्वास प्रस्ताव दो तिहाई मतों से पास हुआ।

पूर्व मे कुछ इस तरह चला घटनाक्रम

पंद्रह पंचों वाली ग्राम पंचायत बेलडोंगरी के 11 पंचों द्वारा पंचायती राज्य अधिनियम 1993 की धारा 21 के तहत अविस्वास प्रस्ताव सपथ पत्र के माध्यम से 3 जनवरी 2019 को अनुविभागीय दण्डाधिकारी के समक्ष लाया गया था। जिसकी सुनवाई हेतु पुष्पराजगढ़ एसडीएम बालागुरु के. ने 5 फरवरी 2019 की तारीख तय की थी किन्ही कारणों से उक्त दिनांक को 26 फरवरी 2019 के लिये बढ़ा दिया गया। किन्तु उक्त दिनांक पर पंचों द्वारा ग्राम पंचायत भवन पहुंचने पर 28 तारीख को सुनवाई का आदेश चस्पा मिला। एक बार फिर जब 28 तारीख को भी सुनवाई न हो सकी तो पंचो सहित ग्रामीण जिला कलेक्टर के पास गुहार लगाने अनूपपुर पहुंचे। तब उक्त मामले पर संज्ञान लेते हुये जिला कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर द्वारा जल्द प्रकरण निराकरण के आदेश अनुविभागीय अधिकारी को दिया गया। अनुविभागीय अधिकारी द्वारा नायब तहसीलदार आदित्य प्रताप द्विवेदी को पीठासीन अधिकारी बनाकर दिनांक 05.03.2019 को ग्राम पंचायत बेलडोंगरी भेजा गया। जहां सुनवाई पश्चात अविस्वास प्रस्ताव का पारित होना पाया गया।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |