# भारत में रिकार्ड ; एक ही दिन में मिले 26000 हजार से ज्यादा मामले ## भारत में कोरोना का कुल आकड़ा 822,603 # वहीँ 516,206 मरीज ठीक हुए,तो वहीँ 22,144 लोगों की हुई मौत # # भारत विश्व में कोरोना के चपेट में पंहुचा तीसरे नंबर पर ये बढ़ता आकड़ा, डराने वाला है # वही रिकवर मरीजों की संख्या भारत में बेहतर ##

Post 5

अपराधों का गढ़ बनते जा रहा पवित्र नगरी अमरकंटक ( मनीष अग्रवाल की रिपोर्ट )

Post 1

सोनमूड़ा मे वृक्षो की कटाई तो चरम पर शराब, जुआं व सट्टे का कारोबार
अमरकंटक की सुंदरता पर वृक्षो की कटाई लगा रहा ग्रहण…

अनूपपुर।

पवित्र नगरी के नाम से विख्यात अमरकंटक सनातन काल से पवित्र स्थली के नाम से जानी जाती रही है। तीन नदियों की उदगमस्थली वाला यह क्षेत्र मैकल पर्वत पर रमणीक स्थल के रूप में ख्याती रखता है। सर्वाधिक ख्याती नर्मदा उदगमस्थली होने से यहां देश विदेशो से भी श्रद्धालु व पर्यटक यहां पहुंचते रहे हैं। रमणीय व पर्यटन स्थलां को देख जहां श्रद्धालु भाव विभोर हो जाते हैं वहीं यहां की सभ्यता भी लोगो को लुभा लेती है, लेकिन बीते कुछ वर्षो से यहां असामाजिक तत्वो का जमावड़ा होने से यहां की शालीनता व समरसता मे खलल पडऩे लगा है। यहां पहुंचते ही मन मे शांति मिलने के लिए विख्यात अमरकंटक मे अब न तो सौंदर्य बढाऩे का काम किया जा रहा है और ना ही अशांति फैलाने वालो पर शिकंजा कसा जा रहा है।

Post 2

सोनमूड़ा मे हो रही वृक्षो की अवैध कटाई

पवित्र नगरी अमरकंटक में सोनमूड़ा दर्शनीय स्थल के अलावा यह घने जंगलो के लिए भी प्रसिद्ध है, लेकिन कुछ पर्यावरण के दुश्मनो की नजर यहां भी गड़ गई और यहां पुराने व कीमती वृक्षो की अवैध कटाई की जा रही है। जिसके लिए स्थानीय नागरिको ने कई बार नगर प्रशासन सहित जिम्मेदारो का ध्यान आकर्षित करने का प्रयास किया, लेकिन अभी तक ठोक कदम न उठाने के कारण लकड़ी माफिया बेरोकटोक जंगल उजाड रहे है।

अतिक्रमण मे जकड़ा अमरकंटक

देश विदेश के लिए आकर्षण का केन्द्र अमरकंटक अब अतिक्रमण की चपेट मे दिखाई पड़ रहा है जिस कारण यहां की स्थिति बेपटरी होती जा रही है। दूसरी ओर यहां देह व्यापार, शराब, जुआं, सट्टे के अवैध कारोबार की बू भी आ रही है, वही प्राकृतिक धरोहरो को भी नुकसान पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है। दूसरी तरफ शासन प्रशासन की नाकामियो की वजह से पालीथीन का जमकर उपयोग किया जा रहा है। जबकी यहां पौलिथीन पूर्णतह प्रतिबंधित है यही कारण की पवित्र नगरी का सुंदर स्वरूप अब धीरे धीरे कम होते जा रहा है।

अमरकंटक मे नही होने दूंगा गलत काम-सोमेश्वर गिरी

सोनमूड़ा आश्रम के महंत सोमेश्वर गिरी महाराज ने बताया कि मै किसी भी हाल मे पवित्र नगरी अमरकंटक मे अवैध कार्य नही होने दूंगा चाहे इसके लिए मुझे कुछ भी करना पड़े। अमरकंटक मे शांति व सुंदरता बनाये रखने के लिए मैने हमेशा कार्य किया है और करता रहूंगा। यहां चाहे किसी भी प्रकार का गलत कार्य किया जाता होगा, जानकारी मिलते ही मै उन्हे पवित्र नगरी से बाहर करके ही दम लूंगा। हर हाल मे पवित्र नगरी को पवित्र रखा जायेगा इसके लिए आम नागरिको को भी आगे आना होगा।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

सचिव रोजगार सहायक और सरपंच की मिलीभगत से पंचायत का हुआ बंटाधार (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     ग्राम पंचायत जीलंग सचिव, रोजगार सहायक हितग्राहियों से प्रधानमंत्री आवास का लाभ दिलाने के नाम पर कर रहे है अवैध वसूली -(पूरन चंदेल की रिपोर्ट- )     |     पट्टे की भूमि पर लगी धान की फसल में सरपंच/सचिव/रोजगार सहायक करा दिए वृक्षारोपण (पूरन चंदेल की रिपोर्ट)      |     ग्राम पंचायत किरगी के नाली निर्माण भ्रस्टाचार की फिर खुली पोल {मनीष अग्रवाल की रिपोर्ट}     |     ओवरलोडिंग से सड़कों की हो रही खस्ताहाल ट्रक ट्रेलर मोटर मालिक हो रहे मालामाल {वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की रिपोर्ट}     |     क्या यहाँ ? इंसान की जगह आवारा कुत्तो को किया जाता है भर्ती {पुष्पेन्द्र रजक की रिपोर्ट}     |     कमिश्नर को दिया आवेदन पत्र, दुकानदार के कहने पर की थी शिकायत (रमेश तिवारी की रिपोर्ट))     |     युवा अपनी ऊर्जा सकारात्मक कार्यों में लगाएँ, सोशल मीडिया का करें सदुपयोग- कलेक्टर     |     अनुपपुर जिले में आगामी रविवार को नही रहेगा पूर्ण लॉकडाउन (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     धार्मिक स्थलों में ना करें सामूहिक पूजा- बिसाहूलाल सिंह (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |