# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

रंगो की वर्षा,फाग की धुन,भांग का नशा और आपसी मिलन का त्यौहार होली,(स्वाती वर्मा की रिपोर्ट)

Post 1

होली रे होली आई रे….होली अरा…ररा… रे…

editing by Swati Varma 

पौराणिक कथा अनुसार हिरण्याकष्यप महान शक्ति साली राजा था वह चाहता था कि हर कोई देवता उसकी पूजा करे वहीं उसका पुत्र प्रहलाद आदेश का पालन न करते हुये अपने पिता की बजाय भगवान विष्णु की पूजा करनी शुरू कर दी तभी हिरण्षकष्यप की बहन होलिका ने योजना बनाई, होलिका के पास आग मे न जलने वाला एक वस्त्र था जैसे ही वह प्रहलाद को जलती अग्नि पर लेकर बैठी तभी उसका कपड़ा उडकर प्रहलाद के ऊपर चला गया और होलिका आग मे जलकर भस्म हो गई और प्रहलाद बच गया तभी से बुराई पर अच्छाई की जीत को लेकर होलिका जलाई जाती है।

Post 2

अंचल मे ऐसे मनाया जाता है होली का त्यौहार

हमारे आस पास के क्षेत्रों मे होली का त्यौहार धूमधाम से मनाया जाता है होली के इस पावन पर्व पर बच्चे होली जलाने के लिये आस पास से लकड़िया इकठ्ठी करते है होलिका बनाते समय बच्चे बीच मे डांग लगाते है और चारो तरफ छोटी छोटी लकड़िया और उपले भी रखते है। चारो तरफ गोल आकार मे चैक पूरते है रात्रि कालीन समय होलिका को जलाने से पहले उसकी विधिवित पूजा की जाती है पूजा मे गुलाल, नारियल, सूत, मिठाई, जल इत्यादि पूजा की सामग्री रखते है पूजा के बाद होलिका जलाते है तत्पष्चात नजर उतारने के राई नमक का प्रयोग किया जाता है और फेरा लगाते है अंत मे बुराई पर अच्छाई की जीत के लिये प्रार्थना करते है। प्रातः काल उठकर जली हुई होलिका की राख को अपने माथे पर तिलक लगाते है और एक दूसरे को टीका लगाकर रंगो का त्यौहार आंरभ करते है। लोग एक दूसरे पर गुलाल लगाकर एक दूसरे को गले लगाते है और होली की बधाई देते है। साथ ही होली पर गाया जाने वाला फगुआ गीत भी गाते है। जिससे हर तरफ खुसियां नजर आती है।

रंग गुलालो से सजी दुकाने

होली प्राचीन हिंदु त्यौहारो मे से एक है रंगो के त्यौहार के तौर पर मशहूर होली का त्यौहार फाल्गुन महीने के पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। होली मे जिला अनूपपुर, कोतमा, राजेन्द्रग्राम और अमरकंटक मे भी होली के त्यौहार पर रंग गुलाल की दुकाने सजी है हर तरफ रंगो की बहार दिख रही है। लोगो के चेहरे पर गुलाल देखने को मिल रहा है। बच्चो के लिये पिचकारी और अबीर के लिये खास दुकाने सजी है। हर जगह बाजारो मे रंग बिरंगे पीले, नीले, लाल अबीर खरीदने के लिये भीड़ दिखाई दे रही है, हर तरफ चहल पहल का वातावरण बना हुआ है। साथ ही अलग अलग तरह की मिठाइयों के लिये भी खास इंतजाम किये गये है।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |