# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

अंधी हत्या की सुलझी गुत्थी, ब्लैकमेलिंग बना हत्या का कारण ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )

Post 1

अंधी हत्या की सुलझी गुत्थी, ब्लैकमेलिंग बना हत्या का कारण

चाकू से 25 बार किया गया वार, हत्या से पहले रेप, प्रेमी ही निकला कातिल

इन्ट्रो- थाना क्षेत्र चचाई अंतर्गत बीते दिनांक 30.03.2019 को बेम्हौरी बगैहा नाला के पास मिली अज्ञात युवती के निर्वस्त्र शव ने जहां क्षेत्र मे सनसनी फैला दी थी। वहीं शव का पता चलते ही चचाई थाना प्रभारी द्वारा अपराध क्रमांक 80/19 आईपीसी की धारा 302 ताहि. के तहत मामला पंजीबद्ध कर विवेचना सुरु की गई। और हत्या के आरोपी जगदीश सिंह गोंड़ को पकड़ने मे पुलिस को सफलता मिली साथ ही हत्या मे इस्तेमाल किया गया चाकू खून से सने कपड़े आदि भी बरामद कर लिये गये है।

Post 2

अनूपपुर:- चचाई थाना अंतर्गत 30 मार्च की सुबह बगैहा नाले के समीप 25 वर्षीय युवती का क्षित विक्षित शव ग्रामीणों द्वारा देखा गया था मामले की सूचना पुलिस को दी गई। हत्यारे ने युवती के शरीर पर चाकू से 25 से अधिक वार किये थे। इतना ही नही युवती के प्राईवेट पार्ट पर चाकू से तीन प्रहार किये गये थे। युवती की पहचान अमलाई थाना अंतर्गत धनपुरी नं. 3 निवासी सपना मिश्रा के रुप मे की गई। एक सप्ताह तक हत्यारा पुलिस को चकमा देने मे कामयाब रहा। सातिर अंदाज मे की गई हत्या के बाद पुलिस को बरगलाने का हत्यारे ने पुरजोर कोशिश की। युवती की नृशंश हत्या और आरोपी के नही पकड़े जाने से पुलिस पर दबाव बढ़ता जा रहा था। पुलिस अधीक्षक जेएस राजपूत ने घटना स्थल का निरीक्षण कर चचाई थाना प्रभारी अरविंद साहू को आवस्यक दिशा निर्देष दिये वहीं अनुविभागीय अधिकारी उमेश कुमार गर्ग के नेतृत्व मे टीम गठित की गई। जिसका परिणाम एक सप्ताह के भीतर ही पुलिस को अंधी हत्या की गुत्थी सुलझाने मे सफलता के रुप मे मिली। युवती का आशिक ही हत्यारा निकला जिसने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। आरोपी ने मृतिका का मोबाईल बुढार थाने के सैफटिक टैंक मे डाल दिया था जिसे भी बरामद कर लिया गया है।

रेप कर बेरहमी से की थी हत्या

चचाई पुलिस एक सप्ताह से लगातार इस अंधी हत्या के खुलासे मे जुटी रही 6 अप्रैल को मुखबिरो ने सूचना दी कि जगदीश सिंह गोंड़ बुढार थाना क्षेत्र मे मौजूद है। यह व्यक्ति अंतिम बार इस युवती के साथ देखा गया था। साथ ही युवती के फोन रिकार्ड के आधार पर जगदीश से अंतिम बार बात किये जाने का प्रमाण मिला था इस कारण जगदीश सिंह गोंड़ पुलिस की नजर मे प्रथम संदेही रहा है। सूचना मिलते ही पुलिस ने घेराबंदी कर जगदीश को पकड़ कर पूछताछ सुरु की गई। तब जगदीश ने सिलसिले बार पूरे राज खोल दिये। उसने बताया कि वह राज मिस्त्री का कार्य करता है। एक वर्ष पूर्व से उसकी मित्रता सपना से रही है। बीते एक पखवाडे़ से मृतक द्वारा उससे पैसों की मांग की जा रही थी। रुपये नही देने पर झूठे मामलो मे फसाने व बदनाम करने की धमकी मृतिका द्वारा दी जा रही थी। 29 मार्च को दोपहर 3 बजे वह सपना के पास पहुंचा और कहा कि सरईकापा मे रहने वाले मित्र के पास रुपये रखे हुये है, चलकर ले आते है। दोनो ने इस बीच शराब पी और शारीरिक संबध भी बनाये फिर 6 बजे सरईकापा पहुंचे जहां मित्र के नही मिलने पर सपना के मोबाईल से फोन कर मित्र से बात की गई बाद मे वहां से वापिस निकलकर बगैहा नाले के समीप एक बार फिर सपना के साथ जबरजस्ती शारीरिक संबध बनाने के बाद उसकी हत्या करने की बात कबूली है।

काॅल डिटेल ने खोला राज

30 मार्च को हुई युवती की हत्या के बाद पुलिस ने अज्ञात आरोपी के विरुद्ध धारा 302 के तहत मामला पंजीबद्ध करते हुये जांच प्रारंभ की थी घटना स्थल से मोबाइल फोन बरामद नही हो सका। किन्तु परिजनों के अनुसार मृतिका मोबाईल फोन का इस्तेमाल करती थी। परिजनों से मोबाईल नं. लेकर उसकी काॅल डिटेल निकाली गई तब पुलिस सक्ते मे आ गई कारण 29 मार्च को युवती ने आधा सैकड़ा से ज्यादा लोगो से बातचीत की थी। थाना प्रभारी अरविंद साहू व उनकी टीम ने प्रत्येक से गहन पूंछताछ की किन्तु पूछताछ मे कोई भी अहम सुराग पुलिस के हाथ नही लगा। जिससे पुलिस किसी को भी संदेही समझ सके। चार दिनों तक पुलिस काॅल डिटेल के आधार पर जांच मे जुटी रही। 29 मार्च की शाम 6 बजकर 3 मिनट पर मृतिका सपना मिश्रा के मोबाईल से अंतिम बार फोन काॅल किया गया था। जिसके बाद पुलिस ने उस नं. की पड़ताल की तब वह नं. बुढ़ार थाना अंतर्गत सरई कापा ग्राम का निकला। पुलिस ग्राम सरईकापा पहुंचकर अंतिम बार बात करने वाले के घर पहुंची। तब उस घर मे मौजूद 14 वर्षीय बालिका ने बताया कि उसके पिता का दोस्त जगदीश घर आया हुआ था तब उसके साथ सपना भी थी पिता भी घर पर नही थे तो जगदीश ने ही सपना के मोबाईल से फोन कर जानकारी ली थी। इस जानकारी के बाद से ही पुलिस ने जाँच को नया मोड़ दे दिया।

आरोपी जगदीश निकला सातिर

पूरे मामले को सातिराना अंदाज मे देने व पुलिस को चकमा देने के लिये जगदीश 29 मार्च को काम पर नही गया था। जगदीश अपने साथ मोबाईल भी नही रखता था। अक्सर दूसरे के मोबाईल से ही वह सपना से बात किया करता था। घटना वाले दिन वह घर से ही सब्जी काटने का चाकू लेकर निकला था। रात्रि 10 बजे पहले उसने सपना के साथ रेप किया फिर उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने इस मामले की धारा 201, 376, 376(2)एन बढ़ाते हुये आरोपी को गिरफतार कर लिया। गिरफतारी से पूर्व जगदीश सिंह गोंड़ जो चचाई थाना अंतर्गत ग्राम बरहाटोला का निवासी है। जिसके संबध मे पता करने पर पुलिस को ज्ञात हुआ कि बीते एक वर्ष से जगदीश व सपना के बीच अवैध संबध रहे थे। दोनो के संबधों को लेकर जगदीश के घर मे विवाद भी होता रहा है। घटना वाले दिन भी जगदीश सपना के साथ रहा। 29 मार्च की शाम 3 बजे से वह सपना को अपने साथ लेकर घूमता रहा। दोनो ने जमकर शराब पी थी पुलिस ने जब जगदीश से पूंछताछ की तब से वह अपने घर से घटना वाले दिन से ही फरार चल रहा था। वहीं वह मोबाईल भी नही रखता था।

मुख्य भूमिका निभाने वाले को किया गया पुरस्कृत

अंधी हत्या के खुलासे मे थाना प्रभारी अरविंद साहू, महिपाल प्रजापति, एसके अहिरवार, आरएन तिवारी, सरिता लकड़ा, रितेश सिंह, मनीश सिंह को उत्कृष्ट कार्य के लिये पुलिस महानिरीक्षक द्वारा पुरस्कृत भी किया गया है।

इनका कहना है

अंधी हत्या का खुलासा कर आरोपी को गिरफतार कर लिया गया है। आरोपी के मृतिका के साथ सारीरिक संबध रहे है। पुलिस टीम को पुरस्कृत किया जायेगा।

जे. एस. राजपूत
पुलिस अधीक्षक अनूपपुर

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

बड़ी खबर: राजेन्द्रग्राम पुलिश के हत्थे चढ़े बकरा मुर्गी चोर (अनिल दुबे की खास रिपोर्ट))     |     एक लगाओ अस्सी पाओ के खेल में युवा हो रहे बर्बाद ,कौन खिला रहा है लांघा टोला पटना में सट्टा (अनिल दुबे की खास रिपोर्ट))     |     बधार में होगा दीवाली धमाका, हर्ष खेड़िया फोड़ेंगे बम पत्थर खदानों में लगी हैं ब्लास्टिंग मसीन वीडियो वायरल (अनिल दुबे की रिपोर्ट@9424776498)     |     मध्यप्रदेश की जनता तोड़ेगी कमलनाथ का घमण्ड — शिवराज सिंह चौहान     |     विकास की नयी इबारत लिखने को तैयार बिसाहूलाल — सुदामा सिंह     |     चुनावी सरगर्मी के बीच छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने लिया माँ नर्मदा का आशीर्वाद     |     जिले की बड़ी खबर: सम्मान की जगह…कोरोना योद्धाओं को बाहर करने की तैयारी     |     सचिव रोजगार सहायक और सरपंच की मिलीभगत से पंचायत का हुआ बंटाधार (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     ग्राम पंचायत जीलंग सचिव, रोजगार सहायक हितग्राहियों से प्रधानमंत्री आवास का लाभ दिलाने के नाम पर कर रहे है अवैध वसूली -(पूरन चंदेल की रिपोर्ट- )     |     पट्टे की भूमि पर लगी धान की फसल में सरपंच/सचिव/रोजगार सहायक करा दिए वृक्षारोपण (पूरन चंदेल की रिपोर्ट)      |