# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

महिला एएसआई से छेड़छाड़ के मामले में बर्खास्त चल रहे AIG संजय शर्मा की तीन वेतनवृद्धि राेकी जाएगी

Post 1

महिला एएसआई से छेड़छाड़ के मामले में बर्खास्त चल रहे AIG संजय शर्मा की तीन वेतनवृद्धि राेकी जाएगी

 

रायपुर। महिला एएसआई से छेड़छाड़ के मामले में करीब तीन साल से बर्खास्त चल रहे एआईजी संजय शर्मा को छत्तीसगढ़ सरकार ने बहाल कर दिया है। मंत्रिमंडलीय उप समिति की रिपोर्ट के बाद रमन मंत्रीमंडल ने तीन वेतनवृद्धि रोके जाने की सजा के साथ यह बहाली की है। इस मामले की जांच कर रही समिति ने उस समय अपनी रिपोर्ट में आरोपों को प्रमाणित कर कार्रवाई किए जाने की सिफारिश की थी।

कार्रवाई के विरोध में संजय शर्मा ने राज्यपाल को पत्र लिखकर पूरे मामले में सहानुभूतिपूर्वक विचार करने की अपील की थी। जिसके बाद मामला रमन मंत्रीमंडल में पेश किया गया। बाद में मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय की अध्यक्षता में मंत्रिमंडलीय उप समिति गठित की गई। इसमें अजय चंद्राकर और रमशीला साहू को सदस्य बनाया था।

उप समिति की पहली बैठक में सदस्य रमशीला साहू ने बहाली किए जाने की सिफारिश पर यह कहते हुए विरोध किया था कि वर्दी पहनने वालों को वर्दी की गरिमा का ख्याल रखना चाहिए, ऐसे संवेदनशील मामलों पर यदि राहत दी गई तो इससे सरकार की छवि पर बुरा असर पड़ सकता है। इसके बाद सोमवार को हुई रमन मंत्रीमंडल की बैठक में संजय शर्मा की बहाली को लेकर मंत्रिमंडलीय उप समिति की रिपोर्ट रखे जाने का कोई एजेंडा नहीं था, लेकिन इसे पृथक एजेंडे के रूप में पेश किया गया। हालांकि इस बात की पुष्टि देर रात तक किसी अधिकारी ने नहीं की है।

 

अश्लील एसएमएस और भद्दी टिप्पणी करते थे शर्मा

– महिला सब इंस्पेक्टर ने आरोप लगाया था कि एआईजी संजय शर्मा ने छेड़छाड़ की। शिकायत के मुताबिक लिफ्ट को रोककर महिला के साथ दुर्व्यवहार किया गया। महिला सब इंस्पेक्टर ने अपनी शिकायत में यह भी कहा था कि संजय शर्मा उनको लगातार अश्लील एसएमएस भेजते थे। यही नहीं, दफ्तर में कई बार भद्दी टिप्पणी भी करते थे।

– शर्मा के खिलाफ डीआईजी प्रशासन सोनल मिश्रा की अध्यक्षता में जांच समिति बनाई गई थी। डीआईजी मिश्रा ने जांच रिपोर्ट आला अधिकारियों को जुलाई 2015 में सौंप दी।

– रिपोर्ट आने के बाद शर्मा को अगस्त 2015 को बर्खास्त कर दिया गया। गृह विभाग के उप सचिव डीके माथुर ने यह आदेश आंतरिक शिकायत समिति के जांच प्रतिवेदन के आधार पर जारी किया। समिति की जांच रिपोर्ट में 7 अप्रैल 2015 को महिला कर्मचारी से एआईजी शर्मा के छेड़छाड़ की पुष्टि की गई है।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |