# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

महिलाओं के गले से चैन छीनने वाले गिरोह सक्रिय ( कोतमा संवाददाता )

Post 1

पुलिस की पहरेदारी पर खड़े हो रहे सवाल

इन्ट्रोः- अपराधियों पर नकेल कसने में कोयलांचल क्षेत्र की पुलिस लंबे समय से नाकाम रही है। जिसकी वजह से यहां महिलाओं के गले से चैन छीनने वाला गिरोह सक्रिय हो गया है। अब तक पांच महिलाओं के गले से गिरोह के द्वारा चैन स्नेचिंग की घटना को अंजाम दिया जा चुका है। जिसके बाद से कोतमा में महिलाएं अपने आप को सुरक्षित नहीं समझ रही हैं।

कोतमा।
कोयलांचल क्षेत्र में वैसे भी अपराधियों का बोलबाला रहता है। इसके बावजूद भी पुलिस वहां सक्रिय नहीं रहती है। यही वजह है कि भालूमाड़ा थाना क्षेत्र अंतर्गत बीते दो दिनों से महिलाओं के गले से सोने की चैन छीनने वाला गिरोह सक्रिय है। पहले गिरोह के द्वारा 3 मई की शाम लगभग 8 बजे चोरों ने एक महिला के गले से सोने की चैन छीनने के बाद दो पहिया वाहन से भाग निकले। महिला अपने रिस्तेदार के घर भालूमाडा घूमने आई थी। शाम को वह बाजार सामाग्री लेने अपने रिस्तेदारो के साथ आई हुई थी। दूसरी घटना 4 मई की शाम लगभग 7 बजें हास्पिटल के सामने निवास करने वाले सोनी परिवार की महिला के साथ घटित हुई। जहां चोरों ने एकांत और अंधेरे का फायदा उठाते हुए उसके गले से सोने की चैन छीनकर भाग गए। लेकिन पुलिस के हाथ चोरों का कोई सुराग नहीं लग सका। जबकि पुलिस के अधिकारियों की माने तो उन्होंने पहली घटना के बाद क्षेत्र में गश्त बढ़ा रखी थी।

Post 2

खौफ के साये में महिलायें

आम जनता में ऐसी वारदातों को देखते हुए काफी आक्रोश है। यहां गली चौराहे में पुलिस की निष्क्रियता को लेकर चर्चायें चल रही है पुलिस वारदात के बाद भी ऐसा दिखाई दे रहा है कि पुलिस हाथ पर हाथ रखे बैठी है। नगर की महिलायें खौफ के साये में जी रही हैं। अब तो वह कहती हैं कि शायद भालूमाड़ा में रहते हुए वह आभूषण नहीं पहन सकतीं।

नहीं लगे सीसीटीवी

आपराधिक गतिविधियों को रोकने के लिए कई बार नगर के प्रतिष्ठित नागरिकों व जनप्रतिनिधियों ने पुलिस के साथ समय पर होने वाली बैठकों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने की मांग रखी थी लेकिन पुलिस केवल रजिस्टरों में उनकी इसकी मांग को लिखती है। पर अमल नहीं करती शायद इस ओर पुलिस ने ध्यान दिया होता तो आज यहां बढ़ती चैन स्केचिंग की वारदात घटित नहीं हो रही होती।

गिरफ्त से कोसों दूर गिरोह

क्षेत्र में लगातार चैन स्केचिंग की वारदातों को अंजाम देने वाला गिरोह पुलिस की गिरफ्त से कोसों दूर है। अब तक पुलिस किसी भी ऐसे संदिग्ध व्यक्ति को हिरासत में लेकर पूंछतांछ तक नहीं कर पाई है। यदि यह गिरोह पुलिस की गिरफ्त में जल्द नहीं आया तो न जाने आगे कितनी महिलाओं के गले से बेशकीमती सोने की चैन पार हो जाएगी।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

सचिव रोजगार सहायक और सरपंच की मिलीभगत से पंचायत का हुआ बंटाधार (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     ग्राम पंचायत जीलंग सचिव, रोजगार सहायक हितग्राहियों से प्रधानमंत्री आवास का लाभ दिलाने के नाम पर कर रहे है अवैध वसूली -(पूरन चंदेल की रिपोर्ट- )     |     पट्टे की भूमि पर लगी धान की फसल में सरपंच/सचिव/रोजगार सहायक करा दिए वृक्षारोपण (पूरन चंदेल की रिपोर्ट)      |     ग्राम पंचायत किरगी के नाली निर्माण भ्रस्टाचार की फिर खुली पोल {मनीष अग्रवाल की रिपोर्ट}     |     ओवरलोडिंग से सड़कों की हो रही खस्ताहाल ट्रक ट्रेलर मोटर मालिक हो रहे मालामाल {वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की रिपोर्ट}     |     क्या यहाँ ? इंसान की जगह आवारा कुत्तो को किया जाता है भर्ती {पुष्पेन्द्र रजक की रिपोर्ट}     |     कमिश्नर को दिया आवेदन पत्र, दुकानदार के कहने पर की थी शिकायत (रमेश तिवारी की रिपोर्ट))     |     युवा अपनी ऊर्जा सकारात्मक कार्यों में लगाएँ, सोशल मीडिया का करें सदुपयोग- कलेक्टर     |     अनुपपुर जिले में आगामी रविवार को नही रहेगा पूर्ण लॉकडाउन (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     धार्मिक स्थलों में ना करें सामूहिक पूजा- बिसाहूलाल सिंह (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |