# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

ज्ञानचंद्र ने आरआई को जड़ा थप्पड़ ( आशुतोष सिंह की रिपोर्ट )

Post 1

क्षेत्र का आदतन अपराधी है ज्ञानचंद्र, दर्ज है कई मामले

राजस्व निरीक्षक संघ ने अपर कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

इन्ट्रोः- मैदानी अमले का उस वक्त काम करना दुस्वार हो जाता है जब ज्ञानचंद्र जैसे आदतन अपराधी उनके सामने पहुंचते हैं और बिना उनकी सुने ही तमाचा जड़ देते है। मामला ग्राम पंचायत तुलरा में उस वक्त घटित हुआ जब क्षेत्र के राजस्व निरीक्षक, पटवारी व कोटवार हल्का क्षेत्र के आराजी खसरा नम्बर 221 रकबा 0.441 हेक्टे. की नाप-जोख कर रहे थे।

Post 2

पुष्पराजगढ़।

शासन-प्रशासन द्वारा राजस्व अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि वह किसानों की भूमि के सीमांकन व उनके नक्शा-तरमीम में कोताही न बरतें। जिसके परिपालन में राजस्व विभाग में आवेदन आने के उपरांत मैदानी अमले द्वारा मौके पर पहुंचकर भूमि के सीमांकन व नक्शा तरमीम की कार्यवाही करने में तत्परता दिखाई जा रही है। लेकिन बीते दिवस ग्राम पंचायत तुलरा में राजस्व निरीक्षक व पटवारी के अलावा कोटवार के साथ घटित हुई घटना के बाद पूरा मैदानी अमला भयभीत है। यहां कृषक की भूमि का सीमांकन करने पहुंचे राजस्व निरीक्षक रामकिशोर पद्माकर व कोटवार रामूलाल को ज्ञानचंद्र ने तमाचा जड़ दिया, वहीं पटवारी कामनी परते के हाथ को मोड़ते हुए उन्हें लात मारी। लोगों ने बताया कि ज्ञानचंद्र क्षेत्र का आदतन अपराधी है। जिसकी वजह से वह डरे सहमें वहां से निकलकर थाना पहुंचे जहां पर आप बीती बताते हुए एफआईआर दर्ज कराई।

ऐसे घटित हुई वारदात

ग्राम पंचायत तुलरा में क्षेत्र के राजस्व निरीक्षक रामकिशोर पद्माकर व पटवारी कामनी परते और कोटवार रामूलाल 11 मई को रामा सिंह पिता नान्हू सिंह की आराजी खसरा नम्बर 221 रकबा 0.441 हेक्टे. का सीमांकन कार्य कर रहे थे। वहां पहुंचे ज्ञानचंद्र को यह नागवार गुजरा। जब तक राजस्व अमला उससे कुछ कहता, वह बेवजह आग बबूला हो गया और आव देखा न ताव राजस्व निरीक्षक पर हाथ छोड़ दिया। जैसे ही महिला पटवारी कामनी परते ने छुड़ाना चाहा तो उनका भी हाथ मोड़ते हुए यह नहीं सोचा कि वह महिला है उसे भी लात मार दी। जिसके बाद से पूरा राजस्व अमला भय के साये में है।

यह सौंपा गया ज्ञापन

राजस्व अमले के साथ ग्राम पंचायत तुलरा में ज्ञानचंद्र के द्वारा की गई वारदात की जानकारी जैसे ही मध्यप्रदेश राजस्व निरीक्षक संघ के पदाधिकारियों को लगी, उन्होंने इसकी कड़ी निंदा करते हुए थाना करनपठार में इसकी लिखित शिकायत करने के बाद अपर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते हुए ज्ञानचंद्र के विरूद्ध कठोर से कठोर कार्यवाही किए जाने की मांग की है। राजस्व निरीक्षक संघ के अध्यक्ष ने स्पष्ट कहा कि यदि ज्ञानचंद्र को जल्द से जल्द पुलिस गिरफ्तार नहीं करती तो वह आंदोलन जैसा सख्त कदम उठाने के लिए बाध्य होंगे।

ऐसा है ज्ञानचंद्र का इतिहास

पूरे मामले की जानकारी जब पुलिस से ली गई तो पुलिस ने बताया कि ज्ञानचंद्र पिता बउरा गोंड़ पाखाटोला ग्राम पंचायत तुलरा का रहने वाला है। इसके विरूद्ध पूर्व में धारा 294, 323, 506, 325 का अपराध 2011 में दर्ज किया गया था। वहीं साल 2016 में 151/107-116(3) सीआरपीसी का अपराध पंजीबद्ध किया गया था। इसके अलावा सीआरपीसी की धारा 107-16(3) के चार अपराध भी इसके विरूद्ध दर्ज हैं। पुलिस ने बताया कि राजस्व निरीक्षक रामकिशोर पद्माकर की शिकायत पर अपराध क्रमांक 83/19 आईपीसी की धारा 353, 294, 323, 506, 427 का मुकदमा पंजीबद्ध किया गया है। पुलिस सरगर्मी से इसकी तलाश में जुटी है।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |