# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

आईजीएनटीयू के श्रृंगिका मिश्रा, तनुश्री सरकार, हीरा सिंह गौंड को मिली सफलता ( मनीष अग्रवाल की रिपोर्ट )

Post 1


अनूपपुर।

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्वविद्यालय के तीन छात्र-छात्राओं को राष्ट्रीय स्तर पर महत्वपूर्ण उपलब्धि प्राप्त हुई है। विश्वविद्यालय की बायोटेक विभाग की शोध छात्रा श्रृंगिका मिश्रा को भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) का प्रतिष्ठित महिला वैज्ञानिक (ए) परियोजना पुरस्कार प्राप्त हुआ है। विभाग की ही एक अन्य छात्रा तनुश्री सरकार को भाभा एटोमिक रिसर्च सेंटर में इंटर्नशिप के लिए चयनित किया गया है जबकि पुरातत्व विभाग के शोध छात्र हीरा सिंह गौंड का चयन मध्यप्रदेश के सांस्कृतिक विभाग में क्यूरेटर (ग्रुप ए) पद के लिए किया गया है। श्रृंगिका मिश्रा की अनूठी परियोजना पर कार्य करने के लिए डीएसटी ने बीस लाख रूपये मंजूर किए हैं। इस परियोजना के अंतर्गत वह सिकल सेल रोग (एससीडी) के उपचार के लिए औषधीय पौधों पर कार्य करेंगी। सिकल रोग मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की जनजातियों में पाया जाता है। एक अनुमान के मुताबिक लगभग 30 प्रतिशत जनजातीय आबादी इस बीमारी से पीड़ित है। शहडोल और अनूपपुर की जनजातियों में यह विशेष रूप से पाई जाती है। इन रोगों का उपचार बहुत महंगा है अतः प्रयास किया जा रहा है कि इस क्षेत्र में पाए जाने वाले औषधीय पौधों से इसका वैज्ञानिक उपचार संभव हो। श्रृंगिका की परियोजना इसी दिशा में कार्य करेगी। वह वर्तमान में बायोटेक्नोलॉजी विभाग के अस्सिटेंट प्रोफेसर डॉ. प्रशांत कुमार सिंह के निर्देशन में पी.एचडी. कर रही हैं। विभाग की ही एक अन्य छात्रा तनुश्री सरकार को बार्क में डॉ. एच.एस. मिश्रा के निर्देशन में तीन माह की इंटर्नशिप करने का अवसर प्राप्त हुआ है। तनुश्री वर्तमान में एम.एससी. बायोटेक की छात्रा हैं। राष्ट्रीय स्तर पर प्राप्त आवेदनों में से चयनित आवेदकों को ही बार्क में इंटर्नशिप करने का अवसर प्राप्त होता है। दोनों छात्रों की इस सफलता पर विभागाध्यक्ष प्रो. भूमिनाथ त्रिपाठी ने सभी शिक्षकों और छात्रों को बधाई दी है। प्राचीन भारतीय इतिहास, संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग के शोध छात्र हीरा सिंह गौंड का चयन ग्रुप ए के पद के लिए किया गया है। मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग के द्वारा आयोजित इस चयन प्रक्रिया में संस्कृति विभाग के लिए संग्रहाध्यक्ष पद के लिए छह पदों के लिए अभ्यर्थियों का चयन किया गया है जिसमें हीरा सिंह गौंड शामिल हैं। हीरा सिंह विभाग के अस्सिटेंट प्रोफेसर डॉ. मोहनलाल चढ़ार के निर्देशन में पीएच.डी. की है। विभागाध्यक्ष प्रो. आलोक श्रोत्रिय ने हीरा सिंह को इस उपलब्धि पर बधाई दी है।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |