# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

108507 बच्चों की दस्तक अभियान में की जाएगी सघन जाँच ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )

Post 1

ज़िला स्तरीय टास्क फ़ोर्स की बैठक में कलेक्टर ने की कार्ययोजना की समीक्षा

अनूपपुर,

10 जून से प्रारम्भ हो रहे दस्तक अभियान की कार्ययोजना की कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने ज़िला स्तरीय टास्क फ़ोर्स की बैठक में विस्तृत समीक्षा की। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अमले के साथ महिला एवं बाल विकास के अमलों का व्यवस्थित रूप से उन्मुखीकरण के निर्देश प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ डी के कोरी को दिए। कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं जनपद सीईओ को अपने क्षेत्र में संचालित हो रही दस्तक अभियान की गतिविधियों पर नियमित रूप से निगरानी करने के लिए कहा। उल्लेखनीय है कि दस्तक अभियान के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु 10-10 गाँव के क्लस्टर बनाकर नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। बैठक में प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ डी के कोरी ने अवगत कराया कि दस्तक अभियान अंतर्गत ज़िले के 576 ग्रामों एवं 93 वार्डों में 5 वर्ष से कम आयु के 108507 बच्चों की सघन स्वास्थ्य जाँच की जाएगी। इस अभियान अंतर्गत एएनएम, आशा एवं आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का संयुक्त दल घर घर जाकर दस्तक देगा एवं घर के 5 वर्ष या कम उम्र के बच्चों के स्वास्थ्य सम्बंधी जानकारियाँ एकत्रित करेगा। इस दौरान कुपोषित बच्चों की जानकारी, निमोनिया, डायरिया, एनीमिया आदि के सम्बंध में निर्धारित प्रपत्र में दल द्वारा जानकारी एकत्र की जाएगी। रोज़ाना की गयी गतिविधियों का दैनिक आधार पर प्रतिवेदन जिसमें प्रगति का स्पष्ट उल्लेख हो कलेक्टर ने प्रस्तुत करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिए।
अभियान के दौरान बच्चों को ओआरएस पैकेट एवं दस्त से पीड़ित बच्चों हेतु ज़िंक पैकेट का वितरण किया जाएगा। 9 माह से 59 माह के बीच के 91813 बच्चों को विटामिन ए की खुराक दी जाएगी। उल्लेखनीय है कि ज़िले में 1417 बच्चे एनीमिया, 2172 बच्चे निमोनिया, 9826 बच्चे डायरिया से पीड़ित होना सम्भावित है। इसके साथ ही 3589 कुपोषित एवं 268 बच्चे अतिकुपोषित श्रेणी में प्राप्त हो सकते हैं। एएनएम आशा एवं आँगनवाड़ी कार्यकर्ता के संयुक्त दल द्वारा अतिकुपोषण का प्रकरण प्राप्त होने पर अविलंब एनआरसी अथवा सीएचसी या ज़िला चिकित्सालय रेफ़रल हेतु पर्ची दी गयी है। डॉ कोरी ने बताया कि हर दल द्वारा एक दिन में 14-18 परिवार की जाँच की जाएगी एक घर में चर्चा में लगभग 20-25 मिनट का समय लगेगा। उन्होंने बताया दलों को 5 जून को उन्मुखीकरण प्रशिक्षण एवं 8 जून को आवश्यक सामग्री एवं प्रपत्रों का वितरण किया जाएगा। यह अभियान 10 जून से 20 जुलाई तक चलेगा। इस दौरान ग्रामों में स्वस्थ ग्राम सभा का आयोजन कर स्वास्थ्य सम्बंधी जानकारियाँ दी जाएँगी। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी ज़िला पंचायत सरोधन सिंह, डीपीओ महिला एवं बाल विकास विभाग मंज़ूलता सिंह, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, सीईओ जनपद समेत स्वास्थ्य विभाग एवं महिला बाल विकास विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |