# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

कोतमा बना चिटफंड कम्पनीयों को आश्रय देने वाला गढ़ (आशुतोष सिंह की रिपोर्ट)

रिलायबल क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी लिमिटेड से लेनदेन न् करने व कार्यालय को सील किये जाने के निर्देशन के बाद भी कोतमा में चल रही है कंपनी

Post 1

3 वर्ष में दुगनी राशि देने का लालच देकर फर्जी कंपनी कर रही है लेंन-देन…

 

 

कोतमा।

Post 2

अनुविभागीय अधिकारी पुलिस कार्यालय कोतमा क्षेत्र अंतर्गत आनेवाले बनिया टोला वार्ड नं 07 बंजारा चैक व कोतमा नगर में कई जगह चिटफंड कंपनियों का आश्रय बना हुआ है। नगर में लगभग 10 ऐसी चिटफंड कपंनीया संचालित है जो सीधे साधे अनपढ़ लोगो को 3 से 4 वर्षो में जमा रकम को करने का झांसा देकर उपभोक्ताओ से पैसे जमा कराते हैं। जब उपभोक्ताओ की जमा रकम की समय अवधि पूरी हो जाती है तो उसे अपने ऑफिस के पैसे के लिए बार-बार चक्कर लगवाए जाते है कुछ दिनों बाद उपभोक्ताओं को यह पता चलता है कि यह कंपनी के ऑफिस पर ताले लटक रहे हैं और कंपनी मालिक या उसके एजेंट सीधे साधे लोगो की जमा पूंजी लेकर फरार हो जाते है। उपभोक्ता थाना पुलिस के चक्कर लगाते लगाते थक जाते हैं लेकिन न उन्हें उनकी जमा रकम मिल पाती है और न ही चिट फंड कम्पनियों पर पुलिस नकेल ही कस पाती है। घटना के बाद पुलिस के अधिकारी यह कहने से भी नही चूकते की क्या मुझसे पूछ कर चिटफंड कंपनियों मे पैसे जमा किये थे। उपभोक्ता अपने आप को ठगा महसूस कर न्याय के लिए भटकता रह जाता है। ऐसे में कई बार जिंदगी भर की जामा पूंजी गंवाने वाले आत्महत्या जैसे कदम भी उठा लेते हैं। रिलायबल क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी लिमिटिड कोतमा के पूर्व ब्रांच मैनेजर दीपक त्रिपाठी निवासी आमाडाँड़ ग्राम-चुकान व कंपनियों के एजेंट अरुण शुक्ला निवासी ग्राम पंचायत- देवगवा, बाल्मीक महाराज एवं मुरलीधर पाठक नामक हजारों ऐसे चिटफंड कंपनियों के एजेंट कोयलांचल क्षेत्र में फैले हुए हैं और सीधे साधे कालरी कर्मचारियों को 3 से 4 साल में दुगुना राशि देने का लालच देकर जिंदगी भर की जमापूंजी चिटफंड कंपनियों में जमा करा कर कंपनी व कम्पनी एजेंट दोनों ही फरार हो जाते है।

फर्जी कंपनी का यह है मास्टरमाइंड

रिलायबल क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी लिमिटिड का पंजीयन वर्ष 2013 में सहकारिता विभाग से करवा कर अरविंद त्रिपाठी निवासी-रीवा द्वारा रीवा बैढन में अपने फर्जीवाड़े की कंपनी का काम शुरू किया और धीरे धीरे पूरे विंध्य क्षेत्र में मकड़ी के जाल की तरह फैलता चला गया। तब रीवा, सतना, सिंगरौली, बुढ़ार व कोतमा में अपने फर्जीवाड़े का खेल शुरू कर बैंकिंग का काम भी शुरू कर दिया और जगह जगह अपनी ऑफिस खोलकर ब्रांच मैनेजर व एजेंट नियुक्त कर 3 वर्षो में जमा की गई राशि का दुगुना राशि देने का लालच देकर उपभोक्ताओं के साथ अरबो खरबो रुपये की ठगी की गई। और शासन से कुछ और कार्य करने का आदेश तो सोसायटी कंपनी खोलने का तो ले आती है लेकिन कंपनियों के मालिकों द्वारा शासन से चोरी छिपे पैसे जमा करने व निकालने जैसे बैंकिंग का कार्य किया जाता है। शासन को इसकी कानो कान खबर नही होती या जानबूझ कर इन्हें मनमानी करने की छूट दे दी जाती है।

कई थानों में है मामले दर्ज

रिलायबल क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी के नाम से लोगों को कम समय में दुगने ब्याज का लालच देकर उपभोक्ताओं का लाखों रुपए जमा करा धोखाधड़ी करने का कथित बैंक डायरेक्टर व ब्रांच मैनेजर को सिंगरौली कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया था शिकायतकर्ता लाल पति साकेत ने थाने जाकर रिलायबल क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी लिमिटिड कपंनी के विरुद्ध लिखित शिकायत कर बताया की कॉलेज मोड बिलौजी के पास स्थित रिलायबल क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी लिमिटिड कंपनी द्वारा दुगना ब्याज देने की लालच देकर पहले पैसा जमा कराया गया लेकिन समय अवधि पूरी होने के बाद भी पैसे वापस करने में आनाकानी की जा रही है। जिसकी कोतवाली पुलिस द्वारा कंपनी के डायरेक्टर अरविंद त्रिपाठी तथा ब्रांच मैनेजर को गिरफ्तार कर लिया गया था। शिकायतकर्ता अनुसार 10000 रुपये तथा अपने परिवार के नाम से 28 लाख रुपये का बांड के रूप में पैसे जमा किये गए ऐसे ही अन्य कई लोगो द्वारा रिलायबल क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी लिमिटिड कंपनी के विरुद्ध सिंगरौली थाने में ठगी की शिकायत की गई थी। साथ ही साथ उसके ब्रांच ऑफिस कार्यालय को सील कर दिया गया था। इसके बावजूद भी अनूपपुर जिले के कोतमा के ब्रांच मैनेजर दीपक त्रिपाठी, अरुण शुक्ला, बाल्मीक महाराज व मुरलीधर पाठक कंपनी के डायरेक्टर के साथ मिलकर फर्जी कंपनी का संचालन आज भी धड़ल्ले से कर रहे है।

कंपनी के ये है मास्टरमाइंड

रिलायबल क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी लिमिटेड कंपनी, रीवा का गठन 01.08.2013 को संस्था के नामांकित कमेटी का गठन किया गया था जिसमें निर्वाचन संचालक मंडल के सदस्य एवं पदाधिकारी के नाम जिसमे मयंक कोगनोलकर अध्यक्ष, अंजुला पांडे उपाध्यक्ष, समय लाल साकेत उपाध्यक्ष, अरविंद त्रिपाठी संचालक, अवधेश प्रसाद मिश्रा संचालक, जितेंद्र पांडे संचालक, नवीन अग्रवाल संचालक, ऋषि कुमार द्विवेदी संचालक,अहिल्या पांडे संचालक, विद्यासागर शुक्ला संचालक, सौखी लाल कोल संचालक है।

उपयुक्त आयुक्त रीवा ने जांच में पाया फर्जीवाड़ा-

रिलायबल क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी लिमिटेड कंपनी के विरुद्ध कार्यालय आयुक्त सहकारिता एवं पंजीयक सहकारी संस्थाएं के संयुक्त आयुक्त भोपाल से शिकायत मिलने के उपरांत फार्म एवं सोसायटी उपायुक्त, रीवा को जांच के निर्देश दिए गए थे जांच के बाद उपायुक्त, रीवा ने रिलायबल क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी लिमिटेड कंपनी के संचालक द्वारा उपभोक्ताओं से जालसाजी करना पाया गया उन्हें तत्काल प्रभाव से सोसायटी के कार्यो पर विराम लगाते हुए समस्त लेंन देंन बंद करने का आदेश जारी किया गया इसके बावजूद फर्जी कंपनी के डायरेक्टर अरविंद त्रिपाठी व कोतमा ब्रांच के पूर्व ब्रांच मैनेजर दीपक त्रिपाठी, अरुण शुक्ला, बाल्मीक महाराज एवं मुरलीधर पाठक जैसे सैकड़ों इस फर्जी कंपनी के एजेंट आज भी कोतमा बंजारा चैक ज्योति पेट्रोल पंप के पास ऑफिस खोलकर उपभोक्ताओं से बैंकिंग का कार्य फर्जी तरीके से संचालित कर आयुक्त रीवा के आदेशों को ठेंगा दिखा रहे हैं।

इनका कहना है
मैं जल्द रिलायबल क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी लिमिटेड कंपनी, कोतमा की जांच करवाती हूँ यदि कोई पीड़ित भी शिकायत करे तो और अच्छा होगा।
किरणलता केरकेट्टा
पुलिस अधीक्षक, अनूपपुर

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |