# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

बांधवगढ़ में राजबहरा वाली बाघिन की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

Post 1

बांधवगढ़ में राजबहरा वाली बाघिन की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

उमरिया 29 जून – विश्व के मानचित्र पर अपना अलग स्थान रखने वाला बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व इन दिनों बाघों की मौत के मामले में भी अपना अलग स्थान बनाया हुआ है। अगर देखा जाय तो जब से बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में मृदुल पाठक संचालक के पद पर आसीन हुए हैं तब से बाघों के मौत के मामले में बांधवगढ़ लगातार सुर्खियों में बना हुआ है, अब तो हालात यह हो गए हैं कि वन्य जीव प्रेमियों के सामने जैसे ही बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व का नाम आता है, वो अनहोनी आशंका से सिहर उठते हैं।

Post 2

राजबहरा वाली बाघिन..

आज फिर बांधवगढ़ की शान कही जाने वाली, पर्यटकों के आंख का तारा रही राजबहरा वाली बाघिन की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई, इस मामले में पार्क के प्रभारी ज्वाइंट डायरेक्टर अनिल कुमार शुक्ला से उनके मोबाइल नंबर 9755186334 पर जब बात किया गया तो बताए कि आपसी लड़ाई में बाघिन की मौत हो गई है। अब इस मामले में यदि इनके कथन को सही मान लिया जाय तो दूसरा बाघ या बाघिन जिससे झगड़ा हुआ है वह कहां और किस स्थिति में है।

वहीं दूसरी तरफ देखा जाय तो अभी 27 जून को बी बी सी की वन्य जीवों पर फ़िल्म बनाने वाली टीम इसी बाघिन पर फ़िल्म बना कर वापस गई है और अभी जुलाई में फिर से 18 दिनों के लिए आने वाली है, इतना ही नहीं लगभग 1 माह पहले इसी बाघिन को रेडियो कालर खोलने के लिए ट्रेंकुलाइज किया गया था, संभवतः ट्रेंकुलाईजिंग के दौरान बेहोशी के दवा की मात्रा ज्यादा हो जाने से बाघिन की हालत ज्यादा खराब हो गई थी तब इसको ऑक्सीजन देकर डॉक्टरों के सहयोग से होश में लाया गया और उसकी हालत में सुधार होने बाद फिर जंगलों में छोड़ दिया गया था।
वहीं अगर कल की घटना को देखा जाय तो प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार बी रूट में झुमरी तलैया के पास नाले में छोटे प्रशिक्षु हाथी के ऊपर यही राजबहरा वाली बाघिन अचानक हमला कर दी थी जिसमें हाथी महावत सहित जमीन पर गिर पड़ा और बाघिन हाथी के पैर को अपने मुंह मे लगातार 5 से 10 मिनट तक दबाए रखी थी जिसके चलते हाथी लगातार चिग्घाड़ता रहा और बाघिन भी दहाड़ती रही, वहीं अपने हाथी को बचाने के लिए आदिवासी महावत युवक बाघिन पर डंडे से प्रहार करने लगा जिसको देख कर पास ही रोड में खड़े पर्यटन प्रभारी एस डी ओ ऋषि कुमार मिश्रा तेज आवाज में महावत को मना किये कि बाघिन को मत मार नही तो तेरे ऊपर अटैक कर देगी, और उसी बाघिन की आज संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। अब अगर पार्क प्रबंधन की बातों पर गौर किया जाय कि आपसी लड़ाई में बाघिन की मौत हो गई है तो सवाल यह उठता है कि दूसरा बाघ या बाघिन जिससे झगड़ा हुआ है, वो किस हालात में हैं, कितना घायल हुआ है।
वहीं दूसरी तरफ देखा जाय तो 2 दिन पूर्व मिर्चहनी वाली उर्फ स्पॉटी बाघिन की 27 माह की बच्ची को ओड़ीसा के सतकोसी टाइगर रिजर्व भेजा गया है, जो कि यहां पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र रही, जबकि 10 से 15 बाघ, बाघिन को अलग – अलग जगहों पर कैद करके रखा गया है वहीं अगर देखा जाय तो चकरधरा वाली बाघिन अपने 3 बच्चों के साथ पर्यटकों को बहुत कम नजर आती है, उसको भेजा जा सकता था या उसके अलावा जिस बाघिन के 4 बच्चों की मौत हो चुकी है उसको बठान कैम्प में कंक्रीट के कमरे में कैद कर रखा गया है जो लगातार दहाड़ मार रही है और अपने पंजों से दीवाल नोच रही है, उसको भी भेजा जा सकता था, सबसे खास बात तो यह है कि ओड़ीसा के सतकोसी टाइगर रिजर्व में आज तक कोई भी टाइगर सर्वाइव नही कर सका है, फिर सवाल यह उठता है कि बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व से ऐसे बाघिन को भेजना जो पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र हो कहाँ तक उचित है। इन सबको देख कर तो ऐसा लगता है कि बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के संचालक मृदुल पाठक अपने सेवा निवृत्ति तक यहां ताला लगा कर जाएंगे और दुनिया भर के वन्य जीव प्रेमियों को निराशा ही हाथ लगेगा। ऐसे में तो लगता है कि प्रदेश के वन मंत्री और मुख्य मंत्री की सह पर श्री पाठक बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व को नेस्तनाबूद करने पर लगे हैं। ऐसे में आवश्यकता है केंद्र सरकार या सर्वोच्च न्यायालय अपने देख – रेख में उच्च स्तरीय जांच करवा कर दोषियों को सजा दे और बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व को बचाने का प्रयास करे ताकि दुनिया भर के वन्य जीव प्रेमियों को निराश न होना पड़े और विश्व के मानचित्र पर इसका अपना स्थान बरकरार रहे।
Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

बड़ी खबर: राजेन्द्रग्राम पुलिश के हत्थे चढ़े बकरा मुर्गी चोर (अनिल दुबे की खास रिपोर्ट))     |     एक लगाओ अस्सी पाओ के खेल में युवा हो रहे बर्बाद ,कौन खिला रहा है लांघा टोला पटना में सट्टा (अनिल दुबे की खास रिपोर्ट))     |     बधार में होगा दीवाली धमाका, हर्ष खेड़िया फोड़ेंगे बम पत्थर खदानों में लगी हैं ब्लास्टिंग मसीन वीडियो वायरल (अनिल दुबे की रिपोर्ट@9424776498)     |     मध्यप्रदेश की जनता तोड़ेगी कमलनाथ का घमण्ड — शिवराज सिंह चौहान     |     विकास की नयी इबारत लिखने को तैयार बिसाहूलाल — सुदामा सिंह     |     चुनावी सरगर्मी के बीच छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने लिया माँ नर्मदा का आशीर्वाद     |     जिले की बड़ी खबर: सम्मान की जगह…कोरोना योद्धाओं को बाहर करने की तैयारी     |     सचिव रोजगार सहायक और सरपंच की मिलीभगत से पंचायत का हुआ बंटाधार (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     ग्राम पंचायत जीलंग सचिव, रोजगार सहायक हितग्राहियों से प्रधानमंत्री आवास का लाभ दिलाने के नाम पर कर रहे है अवैध वसूली -(पूरन चंदेल की रिपोर्ट- )     |     पट्टे की भूमि पर लगी धान की फसल में सरपंच/सचिव/रोजगार सहायक करा दिए वृक्षारोपण (पूरन चंदेल की रिपोर्ट)      |