# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

उप्र, राजस्थान, एमपी समेत कई राज्यों में आंधी-तूफान, तो कई राज्यों में होगी झमाझम बारिश….

Post 1

नई दिल्ली।

मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश, विदर्भ और छत्तीसगढ़ के अलग-अलग क्षेत्रों में आंधी-तूफान की चेतावनी जारी की है। इस दौरान हवा की रफ्तार 30-40 किलोमीटर प्रतिघंटे रहने की संभावना जताई गई है। वहीं, बुधवार को खत्म हुए हफ्ते में औसत से 24 फीसद कम बारिश दर्ज की गई है।

देश भर में मौसम के हाल पर गुरुवार को जारी बुलेटिन में आइएमडी ने कहा है कि बिहार, ओडिशा और झारखंड में भी बिजली कड़कने के साथ ही तेज हवाएं चल सकती हैं। पश्चिम बंगाल और सिक्किम के उप हिमालयी क्षेत्रों में कहीं भारी तो कहीं अत्यधिक भारी बारिश होने की चेतावनी भी जारी की गई है।

Post 2

मौसम विभाग के मुताबिक अगले चौबीस घंटे के दौरान कोंकण, गोवा, असम और मेघालय के विभिन्न क्षेत्रों में भारी बारिश की संभावना है। केरल, बिहार, अरुणाचल प्रदेश, तटवर्ती कर्नाटक, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में भी अलग-अलग स्थान पर मूसलाधार बरसात हो सकती है।

दक्षिणपश्चिम और पश्चिम-मध्य अरब सागर में ऊंची लहरे उठेंगी। इसको देखते हुए मछुआरों को फिलहाल समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है।

वहीं, मुंबई में स्थानीय मौसम कार्यालय ने बताया कि 26 जून को खत्म हुए सप्ताह में देश के विभिन्न भागों में मानसून की औसत से 24 फीसद कम बारिश दर्ज की गई है।

कम बारिश से धान, सोयाबीन और मक्के जैसी खरीफ की फसलों को नुकसान पहुंचने का खतरा पैदा हो गया है। हफ्ते भर की देरी से आए मानसून में अब तक 36 फीसद कम बारिश दर्ज की गई है। पहली जून को मानसून केरल के तट से टकराता है, लेकिन इस बार आठ जून को मानसून में केरल में दस्तक दी थी।

अरब सागर में पैदा हुए चक्रवाती तूफान ‘वायु’ ने इसकी नमी खींच ली थी, जिससे उसकी रफ्तार धीमी पड़ गई थी और देश के दूसरे हिस्सों में मानसून के पहुंचने में और देरी हुई थी।

मुंबई में जलसंकट का खतरा बढ़ा

देश की आर्थिक राजधानी पर भीषण जल संकट का खतरा मंडराने लगा है। बृहन मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने गुरुवार को चेतावनी जारी करते हुए कहा कि मानसून में देरी की वजह से सभी सरोवरों में मुश्किल से पांच फीसद ही जल रह गया है।

बीएमसी ने कहा कि महानगर की 1.7 करोड़ आबादी की प्यास बुझाने के लिए उसे अपने रिजर्व भंडार से पानी की आपूर्ति करनी पड़ रही है। निगम ने कहा है कि रिजर्व भंडारण से जुलाई के आखिर तक लोगों को पानी की सप्लाई की जाएगी। लोगों से किफायत के साथ पानी के इस्तेमाल का अनुरोध किया गया है।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |