# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

अंतर्राज्यीय सीमा में अवैध कारोबारियों की पौ-बारा (आशुतोष सिंह की रिपोर्ट)

फल-फूल रहे अवैध कारोबार में आखिर किसका है संरक्षण

Post 1

इन्ट्रोः- जिले के वेंकटनगर में ऐसा कोई अवैध कारोबार नहीं जो इन दिनों बेखौफ होकर न किया जा रहा हो। चुनाव की आदर्श आचार संहिता लगते ही अंतर्राज्यीय सीमा कहने के लिए सील की गई थी लेकिन कोई भी अवैध कारोबारी पुलिस की गिरफ्त में नहीं आ सका। जबकि यहां से छत्तीसगढ़ शराब की तस्करी बड़े पैमाने पर इन दिनों की जा रही है। तो वहीं गांजे की खेप यहां पहुंच रही है। गौ तस्करी और अवैध खनिज की गाड़ियों पर निगाहें पैनी है लेकिन मामला हिसाब-किताब तक सीमित है।

 

अनूपपुर।

अवैध कारोबार किसी भी स्थान में तब तक नहीं पनप सकता जब तक कि खादी और खाकी के पहरेदारों का संरक्षण कारोबारियों को नहीं मिलता। क्योंकि दोनो की निगाहों और मुखबिरों से कोई नहीं बच सकता। बिल्कुल यही वजह है कि जिले की अंतर्राज्यीय सीमा स्थित वेंकटनगर चैकी क्षेत्र में कोई ऐसा अवैध कारोबार नहीं रहा जो यहां न चलता हो। अवैध कारोबार के ठिकानो और कारोबारियों की जानकारी कई बार वहां के रहवासियों ने की लेकिन जब कार्यवाही नहीं हुई तो वह समझ गये कि अब यहां कुछ बोलना व्यर्थ है। अगर किसी ने ज्यादा कुछ बोला तो उल्टा ही उसके विरूद्ध किसी न किसी मामले में चैकी शिकायत पहुंच जाती है और फिर उसे आगे सफर करना पड़ता है।

Post 2

यहां यह होता कारोबार

वेंकटनगर चैकी क्षेत्र से लगे लहसुना व मुण्डा, भेलमा गांव के रास्ते से हर तीसरे दिन गांजे की खेप पहुंचती है तो वहीं हर दिन यहां से शराब की तस्करी की जाती है। यहां से छत्तीसगढ़ शराब की बड़ी खेप जाती है। इसके अलावा गौ तस्करी के भी दिन तय है जो लपटा से होते हुए फिर छत्तीसगढ़ ले जाए जाते हैं। लेकिन यहां की पुलिस को कुछ नजर नहीं आता।

हर गाड़ी का रहता है हिसाब

यहां से अवैध रेत व पत्थर खनिज के कई वाहन प्रतिदिन छत्तीसगढ़ जाते हैं लेकिन किसी बड़े वाहन पर कभी कार्यवाही नहीं होती। हां इतना जरूर है कि हर एक गाड़ी का हिसाब पहरेदारों के पास रहता है। यदि कभी कार्यवाही का कोरम पूरा करना पड़ा तो टैªक्टरों के विरूद्ध अवैध खनिज परिवहन की कार्यवाही कर उसे बड़ी कार्यवाही बता दिया जाता है।

कौन-क्या करता कारोबार

क्षेत्र में कौन, कहां, क्या अवैध कारोबार करता है इसकी बकायदे पहरेदारों के माईन्ड में सूची होती है। जानकारों की माने तो वह खुद किस क्षेत्र में कौन-क्या कारोबार करेगा तय कर देते हैं। इसीलिए बीते कुछ माहों से इस क्षेत्र में अवैध कारोबारियों की संख्या भी बढ़ी है। ऐसे में न जाने कौन सा शातिर अपराधी यहां शरण लिए हुए है। किसी को पता नहीं चल पाता है।

जन अपेक्षा कार्यवाही की मांग

क्षेत्रवासियों ने जिले के कप्तान से वेंकटनगर चैकी क्षेत्र में दिनों-दिन बढ़ते जा रहे अवैध कारोबार को रोकने की मांग की है। उन्होंने जनहित में अपेक्षा की है कि ऐसे कारोबारियों के विरूद्ध कार्यवाही की जाए ताकि क्षेत्र में अमन-चैन बना रहे और बेरोजगार युवा अपराध की दिशा की ओर न जा सके।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |