# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

पत्थर की अवैध खदानें लील रही जिन्दगियां, (आशुतोष सिंह की रिपोर्ट)

नाबालिग की खदान के पानी मे डूबने से हुई मौत

Post 1

इन्ट्रो- जिले के पुष्पराजगढ़ जनपद में सैकड़ों पत्थर की अवैध खदानें संचालित हैं, जो आए दिन मौत का कारण बन रही है। ताजा मामला ग्राम बसही में संचालित अवैध खदान का है जंहा 12 वर्षिय बालिका रोशनी देवी की खदान में भरे पानी मे डूब जाने से मौत हो गई है। छेत्र में अवैध खदानों में हुई मौत का यह तीसरा मामला है। कब जागेगा प्रसासन और हो रही मौतों को कैसे रोका जाएगा का सवाल आज भी बना हुआ है।

मामला राजेन्द्रग्राम थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम बसही का है, जंहा रहने वाली 12 वर्षीय रोशनी देवी पिता संतोष यादव अपने दो अन्य दोस्तों के साथ शनिवार की साम स्कूल से वापिस आकर चकोडा भाजी तोड़ने घर से करीब एक किलोमीटर दूर अपने खेत के पास गई हुई थी। जंहा पत्थर की खदान अवैध रूप से अर्षो से संचालित है। खदान से कुछ दूर मृतिका के माता पिता अपने खेत पर खेती-बाड़ी का काम कर रहे थे। सभी बच्चों ने नहाने की इच्छा जाहिर करते हुए अवैध खदान में भरे बारिश के पानी मे उतर कर नहाने लगे। जब रोशनी पानी में डूबने लगी तब उसके साथ आए दूसरे बच्चों ने पास काम कर रहे उसके माता पिता को दौड़कर घटने की जानकारी दी। सूचना मिलते ही संतोष यादव अपनी पत्नी के साथ घटना स्थल में पहुंच कर रोशनी को पानी से बाहर निकाला तब तक अत्याधिक पानी पी जाने के कारण रोशनी की मौत हो चुकी थी। ग्रामीणों ने घटना की जानकारी थाना राजेन्द्रग्राम जाकर दी गई, पुलिस ने मर्ग कायम करते हुए घटना स्थल का निरीक्षण किया।

Post 2

अवैध खदानों में होते हैं बारूदी धमाके

मैकलाचंल पर्वत श्रेणियां जुड़ी-बूटी एवं प्राकृतिक संपदा से भरी पड़ीं है, उनका संरक्षण न् करते हुए पहाड़ों में बड़े-बड़े होल कर पहाड़ों को जमींदोज किया जा रहा है। खनिज विभाग को जानकारी होने के बाद भी मामले में लीपापोती की जाती है, ग्रामीण कई बार अवैध ब्लास्टिंग को बंद कराने की मांग कर चुके है, लेकिन जब कोई मामला तूल पकड़ता है तो कुछ दिनों तक पहाड़ों पर सन्नाटा पसर जाता है उसके बाद फिर से धमाके की गूंज पहाड़ों पर गूंजने लगती है।

ऐसे होता है उत्खनन व परिवहन

अवैध खदानों में पहले भी कई जाने जा चुकी हैं किंतु आज तक किसी स्टोन क्रेशर संचालक पर कार्यवाही नही हो सकी है। अधिकांस खदानें ग्रामीणों के आधिपत्य वाली जमीनों पर ही संचालित हैं, स्टोन क्रेशर संचालक इन खदानों पर ब्लास्टिंग आदि की व्यवस्था टेक्टर मालिकों से करवा कर छोड़ देते है। ग्रामीण पत्थर निकालने का कार्य टेक्टरों में लोडिंग कार्य आदि ठेके की दरों पर करते है। क्रेशर संचालक प्रति टेक्टर ट्राली के हिसाब से भुगतान टेक्टर मालिकों को करता है, और ग्रामीण अपना भुगतान इन्ही टेक्टर मालिक से प्राप्त करते है। मजे की बात यह है कि ये टेक्टर मालिक भी आस पास के गांव का होता है। जो मांग के हिसाब से कई क्रेशरों में पत्थर पंहुचाता है चूंकि छेत्र में क्रेशरों की संख्या अत्याधिक है। जिससे यह स्पस्ट नही होता कि खोदा गया पत्थर किस क्रेशर पर पंहुचाया जा रहा है।

बिगड़ा पहाड़ी वन क्षेत्र का स्वरूप

स्टोन क्रेशर संचालक वन परिक्षेत्र में क्रेशर लगा कर वनों के मूल स्वरूप को बिगाडऩे में लगे हुए हैं। उनकी जहां मर्जी होती है वहां अवैध रूप से पत्थर की खुदाई शुरू कर देते हैं। जानकारों की माने तो बड़ीतुम्मी, सरई, हवेली, परसेल, हर्राटोला, दुधमनिया, पटना, दोनिया सहित अन्य कई स्थानों पर क्रेशर संचालकों द्वारा या तो पहाड़ सहित जंगल ही साफ कर दिया गया है या जमीन को खाई नूमा बना कर रख दिया गया है, यहां नियमों को ताक पर रखते हुए जमकर अवैध खुदाई की जा रही है, जिससे वन संपदा सहित पहाड़ का मूल स्वरूप ही बिगड़ता जा रहा है। इसके अलावा भी जिले में कई जगह स्टोन क्रेशर संचालक नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए अवैध उत्खनन करने में जुटे हुए हैं।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |