# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

खुशियों की दास्तां (अनिल दुबे की रिपोर्ट)

उद्यानिकी विभाग की समझाइश से राजकुमार ने अपनायी ड्रिप पद्धति,1.5 लाख का हुआ मुनाफा....

Post 1

अनूपपुर।
23 जुलाई 2019/ग्राम बेलिया छोट विकासखण्ड कोतमा जिला अनूपपुर के निवासी कृषक राजकुमार केवट पिता रामलाल केवट उद्यानिकी फसलों की खेती पूर्व वर्षो में परम्परागत तरीकों से करते थे। जिससे कृषक को कोई विशेष आमदनी प्राप्त नही होती थी। वर्ष 2018-19 में उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों की सलाह एवं समझाइश के बाद आपने विभाग में पंजीयन करवाया एवं ड्रिप सिस्टम पद्धति को अपनाया। ड्रिप पद्धति वर्ष 2018-19 में टमाटर (सक्षम 3150, रकबा-1.000) की खेती शुरू की। कृषक को विगत वर्ष में 1.25 लाख रूपए तक का मुनाफा प्राप्त हुआ है। कृषकों की आय को दोगुना करने हेतु उद्यानिकी विभाग द्वारा विभिन्न योजनाओं के माध्यम से कृषकों को प्रोत्साहित प्रेरित एवं प्रशिक्षित किया जा रहा है। नवीन तकनीकि के प्रयोग से उत्पादन एवं उत्पादकता में वृद्धि, उद्यानिकी उत्पादों की विधिवत जानकारी एवं उत्पादों को खेत से मंडी तक पहुँचाने में गुणवत्ता क्षति को रोकने के उपायों हेतु कृषकों को सहायता उपलब्ध करायी जाती है। विभाग का लक्ष्य उद्यानिकी क्षेत्र में विस्तार कर कृषकों को कम आय उत्पादों से अधिक आय वाले उत्पादों की खेती हेतु प्रेरित करना है। अनूपपुर जिले में उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के सतत प्रयास से उद्यानिकी रकबे में विगत तीन वर्षों में 26.24 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। 2015-16 में जहाँ उद्यानिकी उत्पाद 13345 हेक्टेयर में किए जाते थे 2018-19 में यह बढ़कर 16831 हेक्टेयर हो गया। वर्ष 2021-22 तक यह रकबा 19801 हेक्टेयर ले जाने का लक्ष्य है। केंद्र एवं राज्य शासन की विभिन्न योजनाओं के द्वारा क्षेत्र में फल पौध रोपण, सब्जी क्षेत्र विस्तार, मसाला क्षेत्र विस्तार, औषधि एवं सुगन्धित फसल विस्तार, घरेलू बागवानी अंतर्गत बीपीएल हितग्राहियों को निःशुल्क सब्जी बीज वितरण, व्यावसायिक उद्यानिकी फसल की संरक्षित खेती हेतु सहयोग प्रदान किया गया है। इसके साथ ही उद्यानिकी में यंत्रीकरण को बढ़ावा देने हेतु कृषकों को योजनाओं के माध्यम से अनुदान उपलब्ध कराया गया है। उद्यानिकी योजनाओं अंतर्गत पॉली हाउस, शेड नेट हाउस, कोल्ड स्टोरेज, पैक हाउस, प्याज भंडार जैसी अधोसंरचनायें शासकीय/अशासकीय स्तर पर स्थापित की गयी हैं। क्षेत्र की जलवायु आधारित विशेष उत्पाद जैसे नाशपाती/आड़ू/आलूबुखारा हेतु कृषकों को प्रेरित किया गया एवं कृषकों के समूह बनाकर उनके सामूहिक प्रयास को आर्थिक रूप से अधिक सशक्त करने का कार्य किया गया है। कृषक से कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने मुलाकात की एवं उसकी मेहनत की सराहना करते हुए ऐसे ही लगन से आगे बढ़ते रहने की सलाह दी। आपने जिले के अन्य कृषकों से भी कृषि की आधुनिक तकनीको को अपनाकर लाभान्वित होने एवं सहायक कृषि उद्यमों जैसे पशुपालन मुर्गीपालन उद्यानिकी आदि में भी आगे आकर प्रयास करने का आह्वान किया है।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |