# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

कमरों की कमी, आठ कमरों में पढ़ रहे हैं 730 छात्र ( रमेश तिवारी की रिपोर्ट )

Post 1

प्रयोगशाला उपकरण जगह की कमी से परेशान छात्र 

राजेंद्रग्राम:-

पुष्पराजगढ़ जनपद अंतर्गत ग्राम भेजरी में संचालित हायरसेकंडरी विद्यालय जिसमें मिडिल स्कूल की कक्षाएं भी संचालित है। मिडिल स्कूल भवन जर्जर एवं क्षतिग्रस्त होने के कारण छात्र हाई स्कूल भवन के तीन कमरों में 252 छात्र-छात्राएं पढ़ रहे हैं। मिडिल स्कूल भवन 2007 में सर्व शिक्षा अभियान अंतर्गत निर्मित कराया गया था जो कई वर्षो से जर्जर है। भवन जर्जर होने के कारण विगत 10 वर्षों से हाई स्कूल में ही मिडिल स्कूल की कक्षाएं संचालित की जा रही है। कमरों की कमी होने के कारण छात्रों की पढ़ाई ठीक ढंग से नहीं हो पा रही है।

Post 2

कला, विज्ञान, गणित की पढ़ाई एक साथ

हायर सेकंडरी विद्यालय भेजरी जहां नवमी दसवीं ग्यारहवीं बारहवीं की कक्षा में गणित विज्ञान तथा कला संकाय संचालित हैं। वर्तमान समय में 478 छात्र-छात्राएं अध्ययनरत हैं। ऐसे में कमरों की कमी के कारण परेशानियों के बीच विद्यालय का संचालन किया जा रहा है।

प्रयोगशाला लाइब्रेरी अलमारियों में कैद

विद्यालय मे गणित तथा विज्ञान संकाय के विद्यार्थियों के लिए विभाग द्वारा भेजे गए प्रयोगशाला उपकरण लैब के लिए स्वयं का कोई कमरा ना होने के कारण विद्यालय प्रबंधन द्वारा इस कक्ष में विद्यार्थियों को पढ़ाया जा रहा है। साथ ही प्रयोगशाला के उपकरणों को अलमारियों में बंद कर दिए जाने से छात्र-छात्राओं को प्रैक्टिकल से संबंधित जानकारी नहीं मिल पाती है।

नियमित शिक्षकों का अभाव

विद्यालय के कक्षा 11 के छात्र अभिनव चंद्रवंशी ने बताया कि हायर सेकंडरी विद्यालय मे 8 नियमित शिक्षक के पद विभाग द्वारा सृजित किए गए हैं। जबकि विद्यालय में सिर्फ एक नियमित शिक्षक पदस्थ हैं। अतिथि शिक्षक के भरोसे पढ़ाई चल रही है उनकी भी भर्ती प्रक्रिया में देरी की वजह से अगस्त महीने में कक्षाएं प्रारंभ हो पाई हैं। पाठ्यक्रम बिछड़ते जा रहा है साथ ही परीक्षा की तैयारी में विलंब का सामना करना पड़ रहा है।

कक्षा आठवीं की छात्रा कुमारी धनेश्वरी ने बताया की कक्षा 8वी में 88 छात्र-छात्राएं अध्ययनरत हैं। छोटे से कमरे में बैठने की व्यवस्था सभी के लिए नहीं हो पाती है जिसके कारण बरामदे में तथा पीछे खड़े होकर पढ़ना पड़ता है। बरामदे में बैठे बच्चों को शिक्षक अंदर क्लास में जो पढ़ाते हैं समझ में नहीं आता है।

इनका कहना है:-

कमरों की कमी के कारण प्रयोगशाला संचालित नहीं हो पा रही है
इंद्रपाल अहिरवार
प्राचार्य शासकीय हायर सेकंडरी विद्यालय भेजरी

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |