# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

अनुपपुर जिले में प्रतिबंधात्मक शर्तों में हुआ संशोधन

विभिन्न स्तर में प्रदान की सशर्त छूट...

Post 1

 

उल्लंघन पर होगी दंडात्मक कार्यवाही

अनूपपुर :

Post 2

कलेक्टर एवं ज़िला दंडाधिकारी चंद्रमोहन ठाकुर ने दंडप्रक्रिया संहिता धारा-144 के तहत जारी प्रतिबंधात्मक आदेश में भारत सरकार के निर्देशानुसार विभिन्न क्षेत्रों में सशर्त छूट प्रदान की है:

1. चिन्हित 24 शहरी (अधिक जनसंख्या घनत्व वाले) क्षेत्रों को छोड़कर ग्रामीण क्षेत्रों में दुकानें (किराना और आवश्यक सामान बेचने वाली एकल दुकानें), पीडीएस के तहत शासकीय उचित मूल्य की दुकानों सहित, खाद्य और किराने का सामान (दैनिक उपयोग के लिए). स्वच्छता की वस्तुएं, फल और सब्जियां, डेयरी और दूध बूथ, मुर्गी, मांस और मछली, पशुआहार और चारा आदि को संचालित करने की अनुमति पूरे दिन रहेगी।

2. शहरी क्षेत्रों में सिर्फ़ होम डिलिवरी की अनुमति रहेगी। होम डिलीवरी की समय सीमा प्रातः 10 से दोपहर 4 बजे निर्धारित की गयी है।

2 (a) फल एवं सब्जी, विक्रेता ठेले पर अथवा अन्य वाहन से होम डिलेवरी द्वारा प्रातः 10.00 बजे से सांय 4.00 बजे तक विकय कर सकेंगे बिकेता का मास्क पहनना अनिवार्य होगा। ठेले पर या वाहन के पास दो ग्राहकों के बीच एक मीटर की दूरी रखनी अनिवार्य होगी।

2 (b) दूध विक्रेता प्रातः 6.00 बजे से 9.00 बजे के साथ-साथ प्रातः 10.00 बजे से सांय 4.00 बजे तक होम डिलेवरी कर सकेंगे। दूध बिकेता का मास्क पहनना अनिवार्य होगा।

2 (c) पशु आहार, चारा, अण्डे, मांस एवं मछली के विक्रेता भी होम डिलेवरी प्रातः 10.00 बजे से सांय 4.00 बजे तक कर सकेंगे। विक्रेता का मास्क/गमछा आदि पहनना अनिवार्य होगा।

2 (d) राशन, किराना एवं स्वच्छता वस्तुओं के विक्रेता प्रातः 10.00 बजे से साय 4.00 बजे तक होम डिलीवरी कर घर-घर राशन की बिक्री कर सका। विक्रेता/डिलीवरी करने वाले व्यक्ति को मास्क पहनना अनिवार्य होगा।

2 (e) पके हुए भोजन की बिक्री करने वाले मिठाई दुकानों/ ढाबे/ रेस्टॉरेंट / भोजनालय आदि प्रात: 10.00 बजे से सांय 4.00 बजे तक होम डिलेवरी कर सकेगे। प्रतिष्ठान पर बैठाकर खिलाने पर प्रतिबंध रहेगा। डिलेवरी करने वाले व्यक्ति का मास्क पहनना अनिवार्य होगा।

3. 24 चिन्हित क्षेत्रों के अतिरिक्त मनरेगा कार्य किए जा सकते हैं प्रारम्भ, डिंडोरी पेंड्रा से लगे ग्रामों में 30 अप्रैल के बाद मिलेगी मनरेगा कार्यों की अनुमति। सिंचाई और जल संरक्षण कार्यों को मनरेगा के तहत प्राथमिकता दी जाय।

4. होम डिलीवरी की सेवा सहित अन्य अनुमत कार्य तथा सार्वजनिक क्षेत्रों में आगमन के दौरान सभी को सोशल डिस्टेंसिंग (1 मीटर की दूरी) के साथ हाथ मुँह को अनिवार्य रूप से मास्क अथवा गमछे आदि से ढँककर रखना होगा।

5. कृषि कार्य (कटाई, बुवाई, उपकरणो का संचालन, मरम्मत दुकाने आदि) पशुपालन, मत्स्यपालन गतिविधियाँ (फ़ीड एवं पशुआहार सहित) प्रतिबंध से मुक्त रहेंगी।

6. मास्क न पहनने पर 100, सार्वजनिक स्थल पर थूकने पर 200 का जुर्माना लगाया जाएगा।

7. ग्रामीण क्षेत्रों में किराना, फल सब्ज़ी आदि की दुकानो को खोलने की अनुमति है। दुकान पर नही हुआ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन तो 3 दिन के लिए होगी सील।

8. सभी स्वास्थ्य सेवाएँ, हॉस्पिटल नर्सिंग होम, मेडिकल दुकान, चिकित्सकीय उपकरण आदि प्रतिबंध से मुक्त रहेंगी।

9. बैंक, बीसी आदि वित्तीय सेवाएँ सशर्त रूप से संचालन की अनुमति दी गयी है। प्रातः 10 से 4 नागरिक सेवाओं को प्रदान करने की अनुमति दी गयी है। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग मानको का पालन एवं परिसर को नियमित रूप से सैनिटाईज करना होगा।

10. सामाजिक सेवाएँ वृद्धावस्था पेंशन, विधवा, दिव्यांग आदि पेंशन सेवाएँ चालू रहेंगी। विधवा आश्रम, वृद्धाश्रम संचालन पर प्रतिबंध नही है।

11. आंगनवाड़ी केंद्र आमजन के लिए बंद रहेंगे। आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा प्रत्येक 15 दिन में घर जाकर पोषण आहार पहुँचाना होगा।

12. सार्वजनिक उपयोगिताएँ पेट्रोल पम्प, एलपीजी, डाकघर, नगरीय एवं स्थानीय निकाय निकाय, विद्युत उत्पादन एवं वितरण आदि प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे।

13. सभी ट्रकों/पिकअप और अन्य मालवाहक वाहनों का मूवमेंट जिसमे अधिकतम दो ड्राइवर, एक क्लीनर/सहायक जा सकेंगे उक्त के पास वैध ड्राइविंग लाइसेंस होना चाइए। खाली ट्रक/वाहन को माल की डिलीवरी के बाद या माल लेने के लिए परिवहन करने की अनुमति होगी।

14. ओरिएंट पेपर मिल्स अमलाई से संबद्ध कास्टिक सोडा फैक्ट्री, मोजर बेयर थर्मल पावर प्लांट जैतहरी, अमरकंटक थर्मल पावर प्लांट चचाई तथा एसईसीएल, जमुना/कोतमा, सोहागपुर/हसदेव क्षेत्र को कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु जारी SOP का पालन करते हुए संचालन की अनुमति होगी।

15. नगर पालिकाओं की सीमा के बाहर ग्रामीण क्षेत्रों में ईंट भट्टे एवं मिट्टी के वर्तन बनाने एवं विक्रय करने वालों को छूट रहेगी।

16. ग्रामीण खाद्य प्रसंस्करण उद्योग, पैकेजिंग सामान की निर्माण इकाइयाँ, उत्पादन इकाइयाँ जिन्हें निरंतर संचालन की आवश्यकता है आपूर्ति शृंखला सहित प्रतिबंध से मुक्त रहेंगी।

17. ग्रामीण क्षेत्रों में, यानी नगर पालिकाओं की सीमा के बाहर, सड़क, सिंचाई परियोजनाओं, भवनों और सभी प्रकार की औद्योगिक परियोजनाओं का निर्माण, जिसमें एमएसएमई भी शामिल है, तथा औद्योगिक स्टेट में सभी प्रकार की परियोजनाएँ निर्माण प्रारंभ करने से पहले सभी मजदूरों तथा प्रबंधकों की सूची सहित संबंधित अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) से अनुमति लेनी होगी।

18. नगर पालिकाओं की सीमाओं के भीतर जिला मजिस्ट्रेट से पूर्व अनुमति के बाद ही निर्माण कार्य प्रारंभ किए जा सकेंगे।

19. ज़िला प्रशासन, पुलिस, होमगार्ड, नागरिक सुरक्षा, आग और आपातकालीन सेवाएं, आपदा प्रबंधन, ट्रेज़री, जेल और नगरपालिका सेवाएं बिना किसी प्रतिबंध के कार्य करेंगी।

20. सीमित कर्मचारियों के साथ काम करने के लिए राज्य / केंद्रशासित प्रदेश के अन्य सभी विभाग। समूह ‘ए’ और ‘बी’ अधिकारी आवश्यकतानुसार उपस्थित हो सकते हैं। समूह ‘सी’ और नीचे दिए गए स्तर आवश्यकता के अनुसार सामाजिक दूरी सुनिश्चित करने के साथ 33% तक की क्षमता में भाग ले सकते हैं, । हालांकि, सार्वजनिक सेवाओं की डिलीवरी सुनिश्चित की जाएगी, और इस तरह के उद्देश्य के लिए आवश्यक कर्मचारी तैनात किए जाएंगे। समस्त शासकीय सेवक 24 घंटे अपने मोबाइल फोन पर उपलब्ध रहेंगे एवं आवश्यकता पड़ने पर कार्यालय में उपस्थित होना अनिवार्य होगा।

21. ऐसे सभी व्यक्ति जिन्हें स्वास्थ्य देखभाल कर्मियों द्वारा निर्देशित किया गया है कि वे स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा तय अवधि के लिए सख्त घरेलू संस्थागत क्वारंटाइन में रहें। क्वारंटीन का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति आईपीसी की धारा 188 तथा आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 51 से 60 के तहत कानूनी कार्रवाई के लिए उत्तरदायी होंगे।

22. कोई भी संगठन/प्रबंधक सार्वजनिक स्थानो की 5 या अधिक व्यक्तियों के एकत्रित होने हेतु अनुमति नहीं देगा।

23. शराब, गुटखा, तम्बाकू आदि की बिक्री पर सख्त प्रतिबंध।

24. स्वरोजगारी व्यक्तियों द्वारा प्रदान की गई सेवाएं, जैसे, इलेक्ट्रीशियन, आईटी मरम्मत, कम्प्युटर मरमम्मत प्लंबर, मोटर मैकेनिक, नाई, ब्यूटीशियन और बढ़ई घर-घर जाकर मरमम्त कार्य कर सकते हैं एवं अन्य सेवाएं दे सकते हैं। मास्क पहनना एवं सैनेटाईजर का उपयोग अनिवार्य होगा।

25. निम्न संस्थान प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे प्रसारण, डीटीएच और केबल सेवाओं सहित प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया। 50% तक की शक्ति के साथ आईटी और आईटी सक्षम सेवाएं।केवल सरकारी गतिविधियों के लिए डेटा और कॉल सेंटर। कॉमन सर्विस सेंटर (CSCS) । ई-कॉमर्स कंपनियां, कूरियर सेवाएं, कार्यालय और आवासीय परिसरों के रखरखाव के लिए प्रबंधन सेवाएं एवं निजी सुरक्षा सेवाएं।

टीप :

(A) अनूपपुर जिले के शहरी/ अधिक जनसंख्या घनत्व वाले चिन्हित 24 क्षेत्र निम्न हैं:-

(1) नगर पालिका अनूपपुर (2) नगर पालिका कोतमा (3) नगर पंचायत अमरकंटक (4) नगर पालिका जैतहरी (5) नगर पालिका पसान (6) नगर पालिका बिजुरी (7 ) रामनगर / बनगवां (8) राजेन्द्रग्राम/किरगी/ कोहका ( 9 ) फुनगा (10) व्यंकटनगर (11) चचाई (12) डोला (13) रामनगर (14) डूमरकछार (15) बदरा (16) आमाडांड़ (17) निगवानी ( 18) पोड़की / लालपुर ( 13) बेनीबारी (20) लीलाटोला (21) भेजरी (22) अमलाई (23 ) खूंटा टोला ( 24 ) कोठी

(B) डिण्डौरी जिला तथा पेन्ड्रा-गौरेला-मरवाही (छ0ग0) जिले के सीमावर्ती तहसील पुष्पराजगढ़ के ग्रामों-लालपुर/शिवानी संगम / परिवार / बंधन भांवर/ खजुरवार/ सरई टोला/भीम कुंडी / करौंदा टोला/ खाटी / दमगढ़ / फर्रीसेमर / भमरिया/ पोड़की एवं अमरकंटक, तहसील-कोतमा के ग्रामों-बरबसपुर/चोंडीपोडी /शिकारपुर/ बगडुमरा / छिड मिडी / बाडीखार/भेड़ वाला / चुकाने / भलवाही / बरतराई /मलगा / टंकी/ डुमरकछार/बिजौली तथा तहसील-जैतहरी के ग्रामों- चोलना/जरियारी / भेलमा/ लहसुन / करिया/मुण्डा / खालबहरा / उमरिया व्यंकटनगर एवं कदमसरा में मनरेगा के समस्त कार्य 30 अप्रैल 2020 के बाद प्रारंभ किए जायेंगे।

(C) सभी किराना/फल/सब्जी/दूध/एलपीजी सिलेन्डर/ पेट्रोल पंप संचालक/दवा विक्रेता बिना मास्क पहने सामग्री विक्रय नहीं करेंगे।

निम्न गतिविधियाँ पूर्णतया प्रतिबंधित रहेंगी-

i. सुरक्षा उद्देश्यों को छोड़कर, ट्रेनों द्वारा सभी यात्राएं
ii. सार्वजनिक परिवहन के लिए बसें।
iii. चिकित्सा कारणों या इन दिशानिर्देशों के तहत अनुमत गतिविधियों को छोड़कर व्यक्तियों का अंतर-जिला और अंतर-राज्य मूवमेंट।
iv. सभी शैक्षणिक, प्रशिक्षण, कोचिंग संस्थान आदि बंद रहेंगे।
v. सभी औद्योगिक और व्यावसायिक गतिविधियाँ । (दिशा निर्देशों के तहत विशेष रूप से अनुमति प्राप्त को छोड़कर)
vi. इन दिशा निर्देशों के तहत विशेष रूप से अनुमत आतिथ्य सेवाओं के अलावा अन्य आतिथ्य सेवाएँ
vii. टैक्सी (ऑटो रिक्शा और साइकिल रिक्शा. सहित) और टैक्सी एग्रीगेटर्स की सेवाएं।
viii. सभी सिनेमा हॉल, मॉल, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, व्यायामशाला, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, स्विमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थिएटर, बार और ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल और इसी तरह के स्थान।
ix. सभी सामाजिक/राजनीतिक/खेल/मनोरंजन/अकादमिक/सांस्कृतिक/धार्मिक समारोह/ अन्य एकत्रीकरण।
x. सभी धार्मिक स्थलों/पूजा स्थलों को आमजन के लिए बंद किया जाएगा धार्मिक मंडल/एकत्रीकरण पूर्ण रूप से प्रतिबंधित हैं।
xi. अंतिम संस्कार के विषय में, 20 से अधिक व्यक्तियों के एकत्र होने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

कोई भी व्यक्ति जो इन लॉकडाउन उपायों का उल्लंघन कर रहा है, उस पर आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 51 से 60 के प्रावधानों तथा आई.पी.सी. की धारा 188 के तहत, कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |