FaceBook में दोस्ती के बाद दो प्रेमियों के बीच प्यार परवान चढ़ने लगा. घंटों दिन-रात बाते होने लगी. वाट्सअप में चैट और देर रात तक वीडियो कॉलिंग भी होती रही. लेकिन युवक के बेवफा होने के बाद युवती ने ऐसा कदम उठा लिया, जिससे उसे 21 दिनों के लिए ओड़िशा सरकार ने क्वारेंटाइन कर दिया…

दरअसल ओड़िशा के संबलपुर जिले के मानेश्वर प्रखंड की रहने वाली युवती को सुंदरगढ़ के राजगांगपुर निवासी युवक से FaceBook में दोस्ती हुई. धीरे-धीरे दोस्ती प्यार में बदल गई औऱ फिर प्रेमी बेवफा हो गया. अपने प्रेमी के इस कदम से प्रेमिका सदमें में आ गई.

इसी बीच लॉकडाउन हो गया औऱ फिर भी प्रेमिका का किसी तरह कोई संपर्क अपने प्रेमी से नहीं हो सका. इसके बाद प्रेमिका अपना घर परिवार छोड़कर वह प्रेमी से मिलने पैदल मानेश्वर से राजगांगपुर करीब 200 किमी के सफर पर निकल पड़ी.

कुछ दूर चलने के बाद रास्ते में महाराष्ट्र से लौट रहे श्रमिकों को लेकर आ रही ऑटो में युवती बैठकर बामड़ा पहुंची. वहां पहुंचने के बाद उसने प्रेमी से फोन पर संपर्क किया लेकिन बेवफा प्रेमी ने उसके फोन का कोई जवाब नहीं दिया.

इसी बात से दुखी होकर प्रेमिका जोर-जोर से रोने लगी. युवती को रोते देख किसी ने गोविदपुर पुलिस को सूचना दे दी. जिसके बाद पुलिस ने युवती को थाने ले जाकर पूछताछ की तो उसने पूरी बात बता दी. पुलिस ने युवती के घरवालों को सूचना देकर महाराष्ट्र से आए श्रमिकों के संपर्क में आने की वजह से बामड़ा तहसीलदार को भी मामले की जानकारी दी. जिसके बाद युवती को बामड़ा प्रखंड के पिडापत्थर क्वारंटाइन सेंटर में 21 दिनों के लिए क्वारेंटाइन कर दिया गया है.

अब इंतेजार है उसके कोरोना टेस्ट रिपोर्ट का, जिसके बाद ये तय होगा कि युवती क्वारेंटाइन सेंटर से अपने घर जाएगी या उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती होना पड़ेगा.