# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

लॉकडाउन 4 .0 : 31 मई तक बढ़ा, जहां जानिए अपने हर सवाल का जवाब, आप क्या करेंगे और क्या नहीं…

जानिए नाई की दुकान खुलेगी या नहीं - आप मिठाई की दुकान पर जाकर मिठाई खरीद पाएंगे या नहीं....

Post 1

Lockdown 4.0  लॉकडाउन 31 मई तक बढ़ा दिया गया है और इसके लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गाइडलाइन भी जारी कर दी है। धीरे-धीरे पूरी गाइडलाइन स्पष्ट हो रही है और खास बात यह है कि इस बार राज्य सरकारों को ज्यादा अधिकार दिए गए हैं। यानी राज्य सरकारें तय करेंगी कि उनके यहां के लोगों को किस तरह की छूट मिलेगी और किस तरह की पाबंदियों जारी रहेंगी। इस बीच, आम जनता के मन में कई तरह की सवाल उठ रहे हैं। हर कोई जानना चाहता है कि क्या वह घर से बाहर जा सकता है? क्या पहले की तरह जिंदगी जी सकता है?

जानिए ऐसे ही सवालों के जवाब

क्या मैं पहले की तरह घर से बाहर जा सकता हूं?

Post 2

नहीं, अभी देश में कहीं ऐसे हालात नहीं हैं। ग्रीन जोन वाले इलाकों में जरूर लोग घरों से बाहर निकल सकते हैं, लेकिन आप किसी भी जोन में हो, घर से बाहर निकलते समय मास्क पहनना जरूरी है और हर सार्वजनिक स्थल पर फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन जरूरी है।

क्या मेरा छोटा बच्चा या दादाजी घर से बाहर निकल सकते हैं?

गाइडलाइन में स्पष्ट लिखा है कि 10 साल के कम उम्र के बच्चे और 65 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिक घरों से बाहर निकलने पर मनाही है।

क्या मेरे शहर में सभी दुकानें खुल जाएंगी?

यह फैसला राज्य सरकार करेगी। उम्मद है कि जहां केस कम हैं, वहां सभी दुकानें खोल दी जाएंगी। हालांकि भीड़ इकट्ठा नहीं होने दी जाएगी। दुकान में एक बार में पांच से ज्यादा लोग नहीं जा पाएंगे।

क्या नाई की दुकान खुल जाएगी?

अभी यह स्पष्ट नहीं है। फैसला राज्य सरकार ही करेगी, लेकिन यहां संक्रमण का ज्यादा खतरा देखते हुए माना जा रहा है कि अभी ये दुकानें बंद रहेंगी।

क्या मैं ट्रेन से सफर कर सकता हूं?

रेग्युलर ट्रेनें 30 जून तक बंद हैं। श्रमिक एक्सप्रेस और स्पेशल ट्रेन जरूर चल रही है। यदि आप कहीं फंसे हैं या बहुत जरूरी काम है तो स्पेशल ट्रेन में रिजर्वेशन करवाकर जा सकते हैं। लेकिन बहुत जरूरी होने पर ही।

क्या मैं मिठाई की दुकान पर जा सकता हूं?

नहीं, मिठाई की दुकान खोलने की अनुमति जरूर दी गई है, लेकिन यह होम डिलीवरी के जरिए घर पर सामान पहुंचाएंगे। इसलिए मिठाई चाव से खाइये, लेकिन ऑनलाइन ऑर्डर करके।

क्या मैं ऑफिस जा सकता हूं?

यह फैसला भी शहर के हालात देखते हुए राज्य सरकार लेगी। वैसे केंद्र सरकार की गाइडलाइन के अनुसार, जहां तक संभव हो घर से काम करें। कंपनियां कम कर्मचारियों को बुलाए। शिफ्ट बदलने के दौरान सैनिटाइजेशन किया जाना जरूरी है।

क्या मैं पहले जैसे शादी समारोह में जा सकता हूं?

नहीं, सरकार ने कहा है कि शादी समारोह या ऐसे किसी आयोजन में 50 से ज्यादा लोगों की अनुमति नहीं है।

क्या मैं मंदिर या मस्जिद जा सकता हूं?

नहीं, सरकार ने अभी धार्मिक आयोजनों को खोलने की अनुमति नहीं दी है।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |