# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

ग्वालियर में हादसा / तीन मंजिला मकान में आग लगने से 3 बच्चों की झुलसकर मौत…

अब तक 7 लोगों की जान गई, 11 लोगों को रेस्क्यू किया गया...

Post 1

आग शॉर्ट सर्किट से लगी, घर में काफी सारा पेंट रखा था, जिसने तुरंत आग पकड़ ली…

  • आग इतनी तेज थी कि प्रशासन को मोर्चा संभालने के लिए एयरफोर्स को बुलाना पड़ा

दमकल की 10 गाड़ियां और ऑक्सीजन सिलेंडर भी मौके पर भेजे गए।

Post 2

 

ग्वालियर. शहर के रोशनी घर रोड स्थित तीन मंजिला मकान में सोमवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे आग लग गई। हादसे में 7 लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में दो बच्चियां भी शामिल हैं। हादसा इंदरगंज चौराहे पर थाने से महज 100 मीटर की दूरी पर हुआ। अब तक 11 लोगों को रेस्क्यू किया जा चुका है। घर में 25 से ज्यादा लोग रहते हैं।

दो बच्चियों के शव झुलसी हालत में मिले
घर में आग लगने के बाद दो बच्चियां शुभि और अभि, वहीं फंसी रह गईं। बाद में उनके झुलसे हुए शव बरामद किए गए। 10 साल के एक बच्चे का भी शव मिला। बताया जा रहा है कि आग शॉर्ट सर्किट से लगी। घर में एक दुकान थी, जिसमें काफी ऑयल पेंट रखा था। आग पेंट के संपर्क में आने के बाद इतनी तेजी से भड़की कि यहां रह रहे लोगों को बचने का मौका नहीं मिला। इमारत से उठता धुआं करीब 3 किलोमीटर दूर से भी दिखाई दे रहा था।

आग इतनी तेजी से फैली की परिवार के सदस्यों को संभलने का मौका नहीं मिला। मासूमों की मौत का पता चला तो परिजन बिलख पड़े।

प्रशासन ने तुरंत एयरफोर्स को बुलाया

आग बेकाबू होते देख ग्वालियर जिला प्रशासन ने एयरफोर्स से मोर्चा संभालने को कहा। एयरफोर्स की फायर बिग्रेड टीम मौके पर पहुंची और कुछ लोगों को वहां से रेस्क्यू किया। फायर ब्रिगेड की 10 गाड़ियां और ऑक्सीजन सिलेंडर पहुंचाए गए। लोगों को जया आरोग्य हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। कुछ लोग घायल भी हैं, जिनकी हालत नाजुक बताई जा रही है।

घर में 25 से ज्यादा लोग रहते हैं। रेस्क्यु टीम ने यहां से दो बच्चियों और एक बच्चे का शव झुलसी हालत में निकाला।

बगल के मकान की दीवार तोड़कर घायल और शवों को निकाला

ग्वालियर एयरफोर्स की फायर ब्रिगेड की टीम ने आग पर फोम डालकर काबू पाया। शवों और घायलों को बगल के मकान की दीवार तोड़ने के बाद बाहर निकाला गया। रेस्क्यू टीम ने घटनास्थल काे अभी क्लीन घोषित नहीं किया है। पूरे मकान में गैस भरी है। मौके पर ऑक्सीजन सिलेंडर मंगाए हैं। इसके बाद अंदर जाकर एक बार फिर से तलाशी ली जाएगी।

अलग-अलग कमरे में मिले बच्चे
एक प्रत्यक्षदर्शी का कहना है कि जिस घर में आग लगी है, वह अंदर से काफी बड़ा है। फायर ब्रिगेड की टीम ने आग पर काबू पाने के बाद बच्चों के बारे में पूछा तो उन्हें ये नहीं पता था कि बच्चे किस कमरे में थे। बच्चे दो अलग-अलग कमरे में मिले। उनकी झुलसने और दम घुटने से मौत हुई है।

दुकान मालिक का कहना है कि आग की चिंगारी मीटर से निकली और तारों से होती हुई नीचे तक पहुंच गई। मुझे आग का पता उस समय लगा, जब दुकान में मेरी सीट के पास रखे तारपिन के कार्टन में आग लग गई। मैंने तारपिन के 6 डिब्बे का कार्टन जलती हालत में फेंकने के लिए उठाया। उसी समय एक डिब्बा कार्टन से गिर गया और पूरी दुकान में आग फैल गई।’ – जैसा कि परिवार के सदस्य हरिओम गोयल ने बताया।

शिवराज ने हादसे पर दुख जताया-

 

हादसे में मारे गए लोगों की पहचान हुई

हादसे में आराध्या पिता सुमित गोयल (4 साल), आर्यन पिता साकेत गोयल (10 साल), शुभी गोयल पिता श्याम गोयल (13 साल), आरती गोयल पति श्याम गोयल (37 साल), शकुंतला गोयल पति जयकिशन गोयल (60 साल), प्रियंका गोयल पति साकेत गोयल (33 साल), मधु गोयल पति हरिओम गोयल (55 साल) की मौत हो गई।

 

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |