# मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह का हुआ आगमन ##

Post 5

कोरोना विस्फोट डिंडौरी : शुक्रवार रात 04 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की हुई पुष्टि…

Post 1

शहपुरा में एक ही परिवार के 03 लोग संक्रमित, 01 मरीज भोंदूटोला में मिला कोरोना पॉजिटव केस…

जिले में कुल एक्टिव केस बढ़कर 08, चारों मरीज हाल ही में बाहरी राज्यों से लौटे, 03 कस्तूरी पिपरिया और 01 भोंदूटोला क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती..

डिंडौरी/शहपुरा

Post 2

डिंडौरी जिले के डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में प्रोग्राम मैनेजर (DPM) विक्रम सिंह की कंफर्मेशन के अनुसार 03 कोविड-19 पॉजिटिव केस शहपुरा के एक ही परिवार से हैं, जो कस्तूरी पिपरिया क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती हैं। वहीं, एक केस डिंडौरी के भोंदूटोला क्वारंटाइन सेंटर में मिला है। चारों मरीज हाल ही में बाहरी राज्यों से जिले में लौटे हैं। इन लोगों के सैंपल बीते दिनों ICMR लैब जबलपुर भेजे गए थे, जिनकी रिपोर्ट 22 मई को प्राप्त हुई। इनमें से 04 नागरिकों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। लगातार दो दिन में 05 कोविड-19 पॉजिटिव केस मिलने से जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टेंशन काफी बढ़ गई है। 21 मई की रात समनापुर ब्लॉक के कोकोमटा क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती एक मरीज की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी। ऐसे में ठीक अगले दिन 04 अन्य पॉजिटिव केस मिलना जिले के लिए बड़े खतरे की घंटी है। डिंडौरी जिले में अब कुल एक्टिव केस 08 हो गए हैं। शहपुरा का परिवार कारोबारी और भोंदूटोला का मरीज श्रमिक वर्ग से है।

जिले में कहां, कितने कोरोना पॉजिटिव केस

शहपुरा : 04 (01 मरीज 09 मई, 03 मरीज 22 मई)
समनापुर : 02 (01 मरीज 18 मई, 01 मरीज 22 मई)
डिंडौरी : 01 (22 मई)
बजाग : 01 (18 मई)
करंजिया : 01 ( 20 अप्रैल को पॉजिटिव, 07 मई को स्वस्थ)

जिले में प्रशासन की छूट के बाद कोरोना पॉजिटिव केस बढ़ते आ रहे हैं। 18 मई को लॉकडाउन 4.0 लागू हुआ, जिसमें अधिक रियायतें देते हुए कम शर्तों के साथ व्यावसायिक प्रतिष्ठान खोलने समेत अन्य गतिविधियों को मंजूरी दी गई। 18 मई को ही समनापुर और बजाग में एक-एक कोरोना मरीज मिले। इसके बाद 21 मई को सीमित नियमों के साथ हेयर कटिंग सैलून और ब्यूटी पार्लर खाेलने का आदेश भी प्रशासन ने जारी कर दिया। अब कुल 09 पॉजिटिव केस जिले में मिले हैं, जिनमें से सभी मरीज किसी न किसी बाहरी शहर से डिंडौरी जिले में दाखिल हुए। लिहाजा उनकी थर्मल स्क्रीनिंग और प्रॉपर हेल्थ चैकअप में कोताही साफ झलकती है। वहीं, कुछ उदाहरणों पर गौर करें तो पता चलेगा कि कई वांछित कमियों के कारण देखते ही देखते कोरोना मरीजों की संख्या जिले में 09 पर पहुंच गई। जैसे- जिले में अब तक 30 हजार से ज्यादा श्रमिकों की वापसी हुई है और क्वारंटाइन सेंटर 33 से घटकर 16 हो गए..! इसी तरह लगातार कोविड-19 प्रोटोकॉल के उल्लंघन और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ने पर भी प्रशासन का निष्क्रिय बने रहना कई सवालों को जन्म देता है। बीते दो-तीन दिन में केंद्र की गाइडलाइन के उल्लंघन के कुछ गंभीर मामले डिंडौरीडॉटनेट ने उजागर भी किए हैं। जिले के कई क्वारंटाइन सेंटर्स में भर्ती नागरिकों को हफ्तेभर में डिस्चार्ज करना और बिना क्वारंटाइन किए लोगों को घर भेजना भी गंभीर मुद्दा हैं। इस वजह से जिले को अभी और भी संकट भरे दिन देखने पड़ सकते हैं।

सोशल वर्कर सम्यक ने उठाया था गंभीर मुद्दा लेकिन अब तक ‘नो एक्शन’

डिंडौरी के सोशल वर्कर एडवोकेट सम्यक जैन ने 18 मई को कलेक्टर बी. कार्तिकेयन का ध्यान एक बुहत ही गंभीर मुद्दे की ओर आकृष्ट किया था। सम्यक ने पत्र लिखकर कलेक्टर से निवेदन किया था कि जिले में ओवर द काउंटर बिना डॉक्टर्स प्रिस्क्रिप्शन के कुछ ऐसी दवाइयां बेची जा रही हैं, जो कोरोनावायरस के लक्षणों को दबा देती हैं। यानी ये दवाएं शरीर के तापमान को नियंत्रित करती हैं। सम्यक ने कुछ उदाहरणों के साथ यह मुद्दा उठाकर आगाह किया था कि इससे जिले पर बहुत बड़े संकट का पहाड़ टूट सकता है लेकिन जिला प्रशासन ने अब तक इस पर कोई कदम नहीं उठाया। ऐसे और भी कई मुद्दे हैं, जिन पर अभी भी प्रशासनिक और व्यक्तिगत स्तर पर सख्त गंभीरता बरतने की जरूरत है।

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +919424776498

फर्जी बिल लगाने के बादशाह निकले…….गुप्ता     |     सी.एम. हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों का निराकरण ना करने वाले अफसरों का वेतन आहरण नहीं होगा@अनिल दुबे9424776498     |     प्रक्रिया का पालन करें पंचायतें, टेंडर से हो खरीदी फर्जी बिल पर लगेगा अंकुश…….यदुवंश दुबे ने व्यक्त किये अपने विचार@आसुतोष सिंह     |     बस वाहन चालक यात्रियों के जेब मे डाल रहे डाका ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     पशु चिकित्सालय के अस्तित्व पर खतरा ( वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से )     |     बिना कनेक्शन पहुंचा बिजली बिल, आश्रम को लगा करेंट का झटका (वरिस्ट पत्रकार यदुवंश दुबे की कलम से)     |     पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल मार्को द्वारा दसवें उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का किया भूमि पूजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ मे समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     पटना लांघाटोला से करपा जाने वाली रोड का कब होगा कायाकल्प ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |     शिशु मृत्यु दर मे कमी लाने समीक्षा बैठक हुई संपन्न ( अनिल दुबे की रिपोर्ट )     |